Friday, Jan 28, 2022
-->

नेशनल अवार्ड विजेता #ompuri के बारे में जानें कुछ खास बातें

  • Updated on 1/6/2017

Navodayatimes नई दिल्ली (टीम डिजिटल)। 2017 की शुरूआत में हिंदी सिनेमा को एक बड़ा झटका लगा। आज सुबह बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार ओम पुरी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है।

अभिनेता ओमपुरी ने दुनिया को कहा अलविदा, दिल का दौरा पड़ने से हुई मौत

उन्होंने अपने करियर में एक से बढ़कर किरदारों को निभा कर बॉलीवुड में अपनी पहचान बनाई। जानिए उनसे जुड़ी खास बातें:

  • ओम पुरी का जन्म 18 अक्टूबर 1951 को पटियाला पंजाब में पंजाबी खत्री परिवार में हुआ था। वो 66 साल के थे।
  • ओम पुरी ने स्नातक की डिग्री पुणे के 'फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया' से ली थी।
  • ओम पुरी साल 1973 में दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के भी हिस्सा बने। वहां एक्टर नसीरुद्दीन शाह उनके सहपाठी हुआ करते थे।
  • ओम पुरी ने 1976 की मराठी फिल्म 'घासीराम कोतवाल' से फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा। ओम पुरी को फिल्म 'आरोहण' और 'अर्ध सत्य' के लिए बेस्ट एक्टर का नेशनल अवार्ड भी मिला था। अवॉर्ड मिलने के बाद एक इंटरव्यू में ओम पुरी ने बयान दिया था कि, अमिताभ बच्चन महान एक्टर हैं और मैं उनका शुक्रगुजार हूं क्योंकि उन्होंने 'अर्ध सत्य' फिल्म करने से इंकार कर दिया था जो बाद में मुझे मिली।

Navodayatimes

  • फिल्म 'बाबुल' में ओम पुरी के रोल के लिए पहली पसंद अमरीश पुरी थे लेकिन किसी वजह से यह रोल ओम पूरी को दिया गया।
  • साल 1988 में ओम पुरी ने दूरदर्शन की मशहूर टीवी सीरीज 'भारत एक खोज' में कई भूमिकाएं निभायी जिसे दर्शकों ने काफी सराहा।
  • ओम पुरी की वाइफ नंदिता पूरी ने उनकी बायोग्राफी 'Unlikely Hero' का विमोचन 23 नवंबर 2009 को किया था।
  • ओम पूरी ने अपने करियर में अभी तक 'मिर्च मसाला', 'धारावी', 'अर्ध सत्य', 'गुप्त', 'माचिस' और 'धूप' जैसी बेहतरीन हिंदी फिल्मों के साथ कई अंग्रेजी और अन्य भाषाओं की फिल्में भी की हैं।
  • ओम पूरी को साल 1990 में भारत सरकार की तरफ से 'पद्म श्री' सम्मान से सम्मानित किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.