Saturday, Oct 01, 2022
-->
lata mangeshkar birthday special story

Birthday Spl : बॉलीवुड में लता मंगेश्कर का ऐसा था रुत्बा, मोहम्मद रफी भी हो गए थे साइडलाइन

  • Updated on 9/27/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बॉलीवुड की दिग्गज गायिका लता मंगेश्कर (Lata mangeshkar) 28 सिंतबर को अपना 90वां जन्मदिन मनाने जा रही हैं। इस उम्र में भी उनकी आवाज का जादू आज भी बरकरार है। ब्लैक एंड व्हाइट (black and white) फिल्मों से लेकर आज के दौर तक उनके गाने काफी मशहूर हैं, वहीं उनको उनकी मधुर आवाज और सुपरहिट सॉन्ग्स गाने के लिए कई बड़े पुरस्कारों से भी नवाजा जा चुका है। उनकी सफलता और अचीवमेंट्स के किस्से तो सभी ने सुने होंगे, लेकिन आज हम आपको लता जी के जीवन के बारे में कुछ ऐसी बाते बताने जा रहे हैं जिससे शायद ही कोई वाक्किफ हो।

अपने जन्मदिन से पहले लता मंगेशकर ने बीते दिनों को किया याद, कहा- बर्थडे नहीं होता खास..

इस डर से शादी से करती थीं इंकार
लता मंगेश्कर शादी करने के एक दम खिलाफ थीं। उनकी बहन मीना खडीकर जो कि एक सिंगर हैं। उन्होंने इस बारे में बताया था कि लता मंगेश्कर इसलिए शादी नहीं करना चाहती थीं, क्योंकि उन पर परिवार की जिम्मेदारियां थीं। उनके घरवाले उन्हें शादी के लिए फोर्स भी करते थे लेकिन वो कहतीं कि वो अपने परिवार को छोड़कर नहीं रह पाएंगी।

सावरकर के साथ अपने रिश्तों को लेकर बेबाक बोलीं लता मंगेशकर

अपनी सगी बहन आशा भोंसले से इसलिए हुई थी अनबन
लता मंगेश्कर (Lata mangeshkar) और आशा भोंसले (Asha bhosle) कहने को सगी बहनें हैं दोनों ने ही इंडस्ट्री में अपनी आवाज का जादू बिखेरा है। लेकिन ये दोनों ही एक-दूसरे को अपना कॉम्पिटीशन मानती हैं। सूत्रों की मानें तो आशा भोंसले ने लता के मना करने पर भी उनके पर्सनल सेकेट्री से रिश्ता बना लिया था। ये बात लता मंगेश्कर को बिल्कुल भी पसंद नहीं थी। इस कारण ही उन्होंने अपनी बहन से दूरी बना ली थी।

लता मंगेशकर के नकल न करने वाले बयान पर रानू मंडल ने दिया ये जवाब...

मोहम्मद रफी से नहीं करती थीं बात
लता मंगेश्कर और मोहम्मद रफी ने कई यादगार गानें साथ में गाए हैं। लेकिन मोहम्मद रफी के एक शब्द ने लता जी को इतना गुस्सा दिला दिया था कि उन्होंने रफी साहब से बात करना ही बंद कर दिया था। 60 के दशक में अपने गानों की रॉयलिटी लेने के हक का अभियान शुरू हुआ था। वहीं सभी बड़े सिंगर्स ने प्रोड्यूसर के आगे अपने हक की मांग रखी। लेकिन मोहम्मद रफी सीधे थे, प्रोड्यूसर के मनाने पर वो गाना गाने के लिए मान गए, वहीं जब सभी सिंगर्स उनसे इस बारे में बात करने गए तो रफी गुस्सा हो गए और गुस्से में उन्होंने लता जी की तरफ देखकर कहा, "मुझसे क्या पूछते हो, ये सामने जो महारानी बैठी हैं इसी से बात करलो"। इसपर लता जी ने जवाब दिया कि हां मैं महारानी हूं। इस लड़ाई के बाद मोहम्मद रफी और लता मंगेश्कर ने कभी साथ गाना नहीं गाया।

लता मंगेश्कर के जन्मदिन पर भारत सरकार करेगी उनको इस टाइटल से सम्मानित

स्लो प्वॉइजन देकर की गई थी मारने की कोशिश
ये किस्सा है 1962 का जब 32 साल की उम्र में लता को मारने की कोशिश की गई थी। इस बात का खुलासा पदमा सचदेव ने अपनी किताब 'Aisa Kahan Se Lauen’ में किया था। वे लता की बेहद करीबी हैं। उन्होंने लिखा, साल 1962 में जब लता 32 साल की थीं तब उन्हें स्लो प्वॉइजन दिया गया था। लता जी ने मुझे बताया कि एक बार उन्हें अचानक सुबह पेट में दर्द होने लगा। इसके थोड़ी हीं देर बाद उन्हें दो-तीन बार उल्टियां भी हुईं।

लता मंगेशकर ने #BJP सरकार से लगाई पेड़ों को बचाने की गुहार

उन्होंने बताया की उनकी उल्टी में हरे रंग का कुछ था। जिसकी वजह से उनकी तबीयत इतनी बिगड़ गई कि वह चलने के हालत में भी नहीं थीं। तब उन्हें तुरंत इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। वहां पर डॉक्टरों ने उन्हें इंजेक्शन तो दिया लेकिन दर्द इतना ज्यादा बढ़ चुका था कि शायद उस वक्त वो इंजेक्शन में उसे मिटाने में नाकाम रहा। इलाज कर रहे डॉक्टर ने बताया कि उन्हें धीमा जहर दिया गया था। लता को मारने की कोशिश किसने की इसका खुलासा अभी तक नहीं हुआ लेकिन इस खुलासे के बाद उनका नौकर वहां से भाग गया। भागने से पहले उनके नौकर ने अपना बकाया पैसा भी उनसे नहीं लिया। 

comments

.
.
.
.
.