Saturday, Oct 01, 2022
-->
lata mangeshkar honoured

लता मंगेश्कर के जन्मदिन पर भारत सरकार करेगी उनको इस टाइटल से सम्मानित

  • Updated on 9/6/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पूरे देशभर में अपनी कोयल जैसी आवाज से सभी को दीवाना बनाने वाली बॉलीवुड की दिग्गज गायिका लता मंगेश्कर (lata mangeshkar) की जितनी तारीफ की जाए कम हैं। वहीं इस 28 सितंबर को वो पूरे 90 साल की हो जाएंगी। ऐसे खास मौके पर हमारी सरकार ने उनको एक खूबसूरत तौहफा देने का फैसला किया है। 

लता मंगेशकर ने रानू मंडल पर दी पहली प्रतिक्रिया, फैंस हुए नाराज

लता जी को इस टाइटल से किया जाएगा सम्मानित 
जी हां, खबरें हैं कि लता जी को 'डॉटर ऑफ द नेशन' टाइटल से नवाजा जाएगा। बता दें कि लता जी ने हमारे देश का नाम कई बार रोशन किया है। वैसी भी पिछले सात दशकों से लता जी ने कई योगदान दिए हैं जिसके लिए पूरा देश उनका आभारी है। इस वजह से उन्हें इस खास टाइटल से सम्मानित किया जाएगा।

वहीं इस खबर के बाद मशहूर गीतकार प्रसून जोशी ने लता जी के लिए एक ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने लता जी की तारीफ में एक गाने की कुछ पंक्तियां लिखी हैं। 

वैसे तो आज भी लता मंगेशकर का नाम और पहचान किसी से छुपा नही हैं। लता मंगेशकर ने 13 साल की उम्र में पहली बार साल 1942 में आई मराठी फिल्म ‘पहली मंगलागौर’ में गाना गाया था। 

लता मंगेशकर ने #BJP सरकार से लगाई पेड़ों को बचाने की गुहार

पढ़ें कैसा था लता मंगेशकर का फिल्मी सफर
इसके बाद लता मंगेशकर ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। अपने फिल्मी करियर में अब तक वह अनगिनत गानें गा चुकी हैं। देशवासी बेहद खुशनसीब हैं जो उन्हें लता मंगेशकर जैसी स्वरकोकिला का जन्म भारत देश में हुआ। लता दिदि के गानें चाहे नए हो या पुराने सुनने में हमेशा हीं आनंद आता है। 

वहीं इन दिनों सोशल मीडिया पर लता मंगेशकर जैसी आवाज वाली रानू मंडल खूब चर्चा में बनी हुई हैं। वहीं लता मंगेशकर ने रानू को लेकर कुछ कड़ा बयान दिया है जिसके बाद रानू के प्रति लोगों की सहानुभूति और बढ़ गई है।  

लता मंगेशकर ने रानू मंडल पर दी पहली प्रतिक्रिया, फैंस हुए नाराज

लता मंगेशकर ने रानू मंडल पर दी थी प्रतीक्रिया
दरअसल, हाल ही में लता मंगेशकर ने एक इंटरव्यू में सोशल मीडिया सेंसेशन रानू मंडल को लेकर एक टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि 'अगर मेरे नाम और मेरे काम से किसी का भला होता है तो मैं अपने आप को खुशकिस्मत समझती हूं।' लता ने आगे कहा, 'किसी के जैसा होना लंबे समय तक सफलता नहीं देता है। मेरे, किशोर दा, रफी साहब के गाने, मुकेश भईया, आशा के गाने को गाने से कम वक्त के लिए किसी का ध्यान खिंचा जा सकता है। लेकिन ये अंत तक नहीं रह पाता।'

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.