Thursday, Feb 02, 2023
-->
lata-mangeshkar-unknown-facts-and-pictures

B'day Spl: ...जब लता को स्लो प्वॉइजन देकर की गई थी मारने की कोशिश

  • Updated on 9/28/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत रत्न लता मंगेशकर की पहचान उनकी आवाज है। बचपन से गायिका बनने की चाह रखने वाली लता आज अपना 89 वां जन्मदिन मना रही हैं। लता ने 13 साल की उम्र में पहली बार साल 1942 में आई मराठी फिल्म ‘पहली मंगलागौर’ में गाना गाया था। उनके पिता दीनानाथ मंगेशकर शास्त्रीय गायक थे। लता का जन्म इंदौर में हुआ था लेकिन उनकी परवरिश महाराष्ट्र में हुई।

आज हम आपको लता की जिंदगी से जुड़ा एक ऐसा किस्सा बताने जा रहे हैं जिसे सुन आप भी हैरान रह जाएंगे। जी हां, ये किस्सा है 1962 का जब 32 साल की उम्र में लता को मारने की कोशिश की गई थी। इस बात का खुलासा पदमा सचदेव ने अपनी किताब 'Aisa Kahan Se Lauen’ में किया था। वे लता की बेहद करीबी हैं।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Lataji wishing you and your family a happy Diwali. ✨✨#latamangeshkar #diwali

A post shared by Lata Mangeshkar (@latamangeshkar) on Oct 20, 2017 at 10:24am PDT

उन्होंने लिखा, साल 1962 में जब लता 32 साल की थीं तब उन्हें स्लो प्वॉइजन दिया गया था। लता जी ने मुझे बताया कि एक बार उन्हें अचानक सुबह पेट में दर्द होने लगा। इसके थोड़ी हीं देर बाद उन्हें दो-तीन बार उल्टियां भी हुईं।

उन्होंने बताया की उनकी उल्टी में हरे रंग का कुछ था। जिसकी वजह से उनकी तबीयत इतनी बिगड़ गई कि वह चलने के हालत में भी नहीं थीं। तब उन्हें तुरंत इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। वहां पर डॉक्टरों ने उन्हें इंजेक्शन तो दिया लेकिन दर्द इतना ज्यादा बढ़ चुका था कि शायद उस वक्त वो इंजेक्शन में उसे मिटाने में नाकाम रहा।

 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Lataji 😊 #latamangeshkar #goldenretriever #classicbollywood #bestphotos 🐕

A post shared by Lata Mangeshkar (@latamangeshkar) on Dec 18, 2015 at 7:36am PST

इलाज कर रहे डॉक्टर ने बताया कि उन्हें धीमा जहर दिया गया था। इसका दर्द उन्हें लगभग 10 दिनों तक रहा जिसके कारण लता बेहद कमजोर हो गई थीं और करीब तीन महीने उन्होनें बेड रेस्ट किया और कोई गाना नहीं गा पाईं। उनकी आंतों में दर्द रहता था। इसके कारण कई दिनों तक लता को सूप पीकर ही संतोष करना पड़ता था।

 

लता को मारने की कोशिश किसने की इसका खुलासा अभी तक नहीं हुआ लेकिन इस खुलासे के बाद उनका नौकर वहां से भाग गया। भागने से पहले उनके नौकर ने अपना बकाया पैसा भी उनसे नहीं लिया। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

#twolegends #bestindiansingers

A post shared by Lata Mangeshkar (@latamangeshkar) on Sep 20, 2014 at 3:44pm PDT

आपको बता दें लता भाई बहनों में सबसे बड़ी हैं। उनके परिवार में भाई हृदयनाथ मंगेशकर और बहनों में उषा मंगेशकर, मीना मंगेशकर और आशा भोंसले हैं। लता ने लगभग तीस से ज्यादा भाषाओं में फिल्मी और गैर-फिल्मी गाने गाये हैं। लता ही एकमात्र ऐसी जीवित व्यक्ति हैं जिनके नाम से पुरस्कार दिए जाते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.