Sunday, Jan 23, 2022
-->
mirzapur 2 review in hindi anjsnt

Mirzapur 2 Review : कालीन भैया, गुड्डू पंडित और गोलू का एक बार फिर भौकाल टाइट

  • Updated on 10/23/2020

Mirzapur 2 Cast- पंकज त्रिपाठी, अली फजल, श्वेता त्रिपाठी, रसिका दुग्गल, हर्षिता गौर
Mirzapur 2 Web Series Genre- क्राइम थ्रिलर
Mirzapur 2 Director- करण अंशुमन, गुरमीत सिंह
Mirzapur 2 Rating- 3.5/5

नई दिल्ली/ अनुज श्रीवास्तव। 2 साल के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार वो पल आ ही गया जिसका सभी को बेसब्री से इंतजार था। पंकज त्रिपाठी, दिव्येंदु शर्मा, श्वेता त्रिपाठी, अली फजल जैसे सितारों से बुनी हुई इस सीरीज का दूसरा सीजन 22 अक्टबूर को रिलीज कर दिया गया है। आइए आपको बताते हैं कि मिर्जापुर का ये दूसरा सीजन पहले सीजन के मुकाबले भौकाल मचा पाया है या नहीं।

कहानी
अगर आप मिर्जापुर 2 देखने का प्लान कर रहे हैं तो ये तो पक्का है कि आपने इसका पहला सीजन मिस नहीं किया होगा। चलिए फिर भी आपको बताते हैं कि पिछले सीजन के लास्ट एपिसोड में मुन्ना त्रिपाठी (दिव्येंदु शर्मा), बबलू पंडित (विक्रांत मैसी) और स्वीटी (श्रिया पिलगांवकर) को मार देता है। इसके आगे की कहानी शुरू होती है इस सीजन में।

बदले के जनून से भरे गुड्डू पंडित (अली फजल), गोलू गुप्ता (श्वेता त्रिपाठी) और डिंपी पंडित (हर्षिता गौर) मिर्जापुर से कहीं दूर जाकर अपना इलाज कराते हैं और कुछ दिन बाद वो मुन्ना भैया से अपने भाई के खून का बदला लेने और मिर्जापुर छीनने के लिए निकल पड़ते हैं। 

वहीं दूसरी तरफ रति शंकर शुक्ला (शुभ्रज्योति भारत) का बेटा शरद शुक्ला (अंजुम शर्मा) अपने पिता के खून का बदला लेने के लिए वापिस मिर्जापुर आ जाता है। इसी बीच गोलू ने बंदूक उठा ली है और वो गुड्डू भइया के साथ बदला लेने को तैयार है। इस खून- खराबे के बाद अब आखिर ये मिर्जापुर किसका होगा ये देखने के लिए आपको पूरी सीरीज देखनी पड़ेगी।

एक्टिंग
मिर्जापुर को एक दूसरे से छिनने की आग लखनऊ तक पहुंच गई है। एक्टिंग की बात करें तो गुड्डू पंडित ने घायल शेर की तरह अपनी पूरी ताकत के साथ सीरीज में वापसी की है। उनकी दमदार एक्टिंग और मुन्ना भैया के गद्दी पर बैठने के जज्बे ने पूरे सीजन को हिला कर रख दिया। इसलिए ये कहना गलत नहीं होगा कि पहले सीजन के मुकाबले एक्टिंग में सभी ने पूरे  जी- जान से मेहनत की है। चाहे वो नए कैरेक्टर हो या फिर पुराने सभी ने अपने किरदार को जीते हुए सीरीज में काम किया है।

निर्देशन
इस सीरीज में डायरेक्टर गुरमीत सिंह और मिहिर देसाई के लिए इस बार पहले से ज्यादा बड़ी चुनौती थी क्योंकि दर्शकों को पहले सीजन के बाद इस सीजन से काफी उम्मीद थी। दर्शकों की इन्हीं उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए गुरमीत सिंह ने दो साल का वक्त लिया जिससे मिर्जापुर2 में किसी तरह की कमी न रह जाए।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Maurya ji cannot wait any more. 6 hi din bache hai ab toh, ice-cream khaate khaate yuhi nikal jaayenge. #MirzapurOnPrime

अक्तू॰ 17, 2020 को 7:03पूर्वाह्न PDT बजे को Mirzapur Amazon (@yehhaimirzapur) द्वारा साझा की गई पोस्ट

क्या नया है?
इस सीजन में आपको पहले से ज्यादा गोली की आवाज सुनाई देगीं। देसी कट्टों का जादू इस बार भी धन धनाकर चलने वाला है और हां गोलियों के साथ ही गालियों की बौछार होगी जो सीधा आपके दिल और दिमाग को टच करेगी। इस सीरीज की यही बात इसे मिर्जापुर के पहले सीजन से दमदार बनाती है।

comments

.
.
.
.
.