Tuesday, Jan 25, 2022
-->
mumbai police sent kangana for the third time for questioning  anjsnt

मंबई पुलिस ने कंगना को भेजा तीसरी बार समन, क्या कंगना पूछताछ के लिए होंगी पेश

  • Updated on 11/23/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) को आज मुंबई पुलिस के सामने पेश होना है। ये तीसरी बार है जब पुलिस ने कंगना और रंगोली (Rangoli Chandel) को समन भेजा है। जिसमें कंगना को आज और रंगोली को कल यानी कि 24 नवंबर को पेश होना है।

आपको बता दें कि इससे पहले भी जब कंगना और रंगोली को समन भेजा गया था तो उनके वकील ने कहा था कि अभी वो अपने भाई की शादी में काफी बिजी चल रही है। इसलिए पुलिस के सामने पेश नहीं हो पाएंगी।ऐसे में अब इस बार रविवार तक कंगना और रंगोली की तरफ से किसी भी तरह का कोई जवाब नहीं आया था। इसलिए अभी ये सवाल उठ रहा है कि क्या कंगना और रंगोली मुंबई पुलिस के सामने पेश होंगी या नहीं।

बर्थडे बॉय कार्तिक आर्यन लॉकडाउन में एक सच्चे सेवियर बने, देखें ऐसे ही कुछ दिलचस्प पोस्ट

कंगना और रंगोली पर लगे हैं ये आरोप
कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल पर अपनी टिप्पणियों के जरिये विभिन समुदायों के बीच कथित तौर पर नफरत फैलाने और इसे बढ़ावा देने का आरोप लगा है। बांद्रा पुलिस ने दोनों बहनों के खिलाफ धारा 153-ए (विभिन्न धर्मों के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच वैमनस्य को बढ़ावा देना), 295-ए (धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाला कृत्य जानबूझकर करना), 124-ए (राजद्रोह), 34 (साझा इरादे) के तहत प्राथमिकी दर्ज की है।

Video: भाई के रिसेप्शन में कंगना ने पहाड़ी लुक में किया ऐसा डांस, लूट लिया हर किसी का दिल

कंगना ने इस्लामिक कट्टरपंथियों को लिया आड़े हाथ
बांग्लादेश के स्टार ऑलराउंडर क्रिकेटर शाकिब अल हसन हाल ही में काली पूजा में शामिल हुए थे जिसके बाद इस्लामिक कट्टरपंथियों द्वारा उन्हें जान से मारने की धमकी मिल रही थी। इन धमकियों को देखते हुए शाकिब ने तो माफी मांग ली लेकिन अब कंगना रनौत ने इन इस्लामिक कट्टरपंथियों को आड़े हाथ लिया है।

नहीं थम रही मामा-भांजे की तकरार, पढ़ें कब शुरु हुआ था गोविंदा-कृष्णा में विवाद!

कंगना ने ट्वीट कर कही ये बात
शाकिब अल हसन मामले में इस्लामिक कट्टरपंथियों को आड़े हाथ लेते हुए कंगना ने ट्वीट करते हुए लिखा 'क्यूं डरते हो इतना मंदिरों से? कोई तो वजह होगी? यूंही कोई इतना नहीं घबराता, हम तो सारी उम्र मस्जिद में बिता दें फिर भी राम नाम कोई दिल से नहीं निकाल सकता, खुद की इबादत पे भरोसा नहीं या अपना ही हिंदू अतीत तुम्हें मंदिरों से आकर्षित करता है? पूछो खुद से....'।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.