Thursday, Jan 20, 2022
-->

नेहा भसीन ने कहा 'संगीत जगत में पुरषों का है वर्चस्व, फिमेल सिंगर्स को मिलते हैं कम अवसर'

  • Updated on 7/5/2017

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल। सिंगर नेहा भसीन जिन्हें बालीवुड में अपनी पहचान बनाने में लगभग 16 साल का समय लगा गया, उनका कहना है कि यह एक पुरष-वर्चस्व वाला क्षेत्र है जहां महिला गायकों को उचित अवसर नहीं मिलते।

फिल्म 'सुल्तान' के गीत  'जग घुमिया ' के लिए वर्ष 2016 में अधिकतर पुरस्कार हासिल करने वाली 34 वर्षीय गायिका का कहना है कि एक नई एवं असामान्य आवाज के लिए संगीत जगत में अपनी पहचान बनाना काफी कठिन है। 

PM मोदी पर वीना मलिक ने की आपत्तिजनक टिप्पणी, देखें Video

नेहा ने एक इवेंट में बताया 'संगीत जगत में पुरषों का वर्चस्व है। महिलाओं के लिए यहां अवसर बेहद कम हैं। केवल श्रेया घोषाल और सुनिधि चौहान को ही अच्छा और अधिक काम मिला है।' उन्होंने कहा, 'इन दिनों संगीतकार खुद ही गीत गा रहे हैं या दूसरे पुरूष कलाकारों को गाने का मौका दे रहे हैं। फिल्म एल्बम में महिला गायक बमुश्किल पाई जाती हैं और होता भी हैं तो पुरूष कलाकार के 'फीमेल वर्जन' को गाने के लिए।

नेहा का कहना हैै संगीत जगत को चलाने की एक व्यवस्था होनी चाहिए लेकिन वह हमारे पास नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.