1 रुपए की फिल्म से लेकर अमिताभ का करियर संवारने तक कुछ ऐसे निभाते थे प्राण यारों से यारी

  • Updated on 2/11/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्राण वो नाम है जिसका चेहरा देखकर ही लोग घबरा जाया करते थे। प्राण का 'बरखुरदार' कहने का वो अंदाज लोग आज भी अक्सर अपनाया करते हैं। आज प्राण साहब का जन्मदिन है। फिल्मों में नेगेटिव किरदार निभाते-निभाते प्राण की छवि भी ऐसी ही बन गई थी लेकिन प्राण का दिल बहुत बड़ा था।

पद्मभूषण और दादा साहब फाल्के पुरस्कार समेत कई अवार्ड से सम्मानित प्राण अपने समय में हीरो से ज्यादा फीस लिया करते थे। वे दिल के बहुत अच्छे और यारों के यार थे। 

अभिनेता और निर्देशक राज कपूर की फिल्म 'बॉबी' में काम करने के लिए प्राण ने महज एक रुपये की फीस ली थी, क्योंकि उस दौरान राज कपूर आर्थिक तंगी से जूझ रहे थे। दरअसल 'बॉबी' से पहले अपनी फिल्म 'मेरा नाम जोकर' बनाने के लिए राजकपूर अपना सारा पैसा लगा चुके थे। यह फिल्म बुरी तरह असफल रही जिसके बाद राजकपूर भयंकर आर्थिक तंगी से जूझ रहे थे। फिर 'बॉबी' से वो अपने नुकसान की भरपाई की उम्मीद कर रहे थे, जिसके लिए प्राण ने राजकपूर के लिए इस फिल्म में महज एक रूपये में काम किया।

प्राण ने साल 1972 में 'बेइमान' के लिए बेस्ट सपोर्टिग का फिल्मफेयर अवार्ड लौटा दिया था, क्योंकि उस साल आई कमाल अमरोही की फिल्म 'पाकीजा' को एक भी पुरस्कार नहीं मिला था। पुरस्कार लौटा कर प्राण ने अपना विरोध जताया कि 'पाकीजा' को अवार्ड न देकर फिल्मफेयर ने अवार्ड देने में गलती की है। ऐसे अभिनेता आज के समय में दुर्लभ हैं।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Their expressions in this song are absolutely PRICELESS!😅 . . #Lalitsinghnirban deaf #pran #halfticket

A post shared by Lalit Singh Nirban (@lalitsinghnirban1980) on Feb 2, 2019 at 11:04am PST

अमिताभ बच्चन को बिग बी बनाने में भी प्राण का सबसे बड़ा हाथ है। उन्होंने ही प्रकाश मेहरा को कहकर बिग बी को फिल्म 'जंजीर' में मुख्य किरदार निभाने का मौका दिलाया और इस फिल्म में शेर खान का रोल भी अदा किया। यह कहना गलत न होगा कि प्राण साहब ने ही इंडस्ट्री में बिग बी को एंग्री हीरो के तौर पर खड़ा किया।

प्राण एक्टर बनने से पहले एक फोटोग्राफर बनने का सपना देखा करते थे। उन्होंने दिल्ली की एक फोटोग्राफी कंपनी के साथ काम भी किया था।

बॉलीवुड का यह प्राण 12 जुलाई 2013 को दुनिया से अलविदा कह गया था। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.