Tuesday, Oct 04, 2022
-->
r madhavan starrer rocketry the nambi effect movie review in hindi

Rocketry – The Nambi Effect Film Review: डेब्यू डायरेक्टर के तौर पर माधवन ने किया हैरान

  • Updated on 7/1/2022
  • Author : Jyotsna Rawat

फिल्म : रॉकेट्री- द नंबी इफेक्ट (Rocketry- The Nambi Effect)
निर्देशक : माधवन
कलाकार : आर माधवन, सिमरन, शाहरुख खान, रजित कपूर, गुलशन ग्रोवर, सैम मोहन, मीशा घोषाल
रेटिंग : 4/5

Rocketry- The Nambi Effect Review: फिल्म 'रॉकेट्री- द नंबी इफेक्ट' पद्मभूषण से सम्मानित रॉकेट वैज्ञानिक नंबी नारायणन की जिंदगी पर बनी है। यह फिल्म पिछले लंबे समय से चर्चा में बनी हुई थी। फिल्म में आर माधवन के अलावा शाहरुख खान और साउथ एक्टर सूर्या भी हैं साथ ही रजित कपूर, गुलशन ग्रोवर, सैम मोहन, मीशा घोषाल व सिमरन भी अहम किरदारों में नजर आएंगे। 

नंबी नारायणन की ये कहानी जब आप पर्दे पर देखेंगे तो रोंगटे खडे हो जाएंगे। उन्होंने रॉकेट साइंस की दुनिया में देश का नाम रोशन किया और कई मुश्किलों के बावजूद रॉकेट इंजन का निर्माण किया। जिसकी वजह से भारत अपने सैटेलाइट्स लॉन्च करने के लिए दूसरे देशों पर निर्भर नहीं रहा। इन सबके बदले उन्हें देशद्रोही ठहराया गया और पुलिस व लोगों से अवमानना मिली। यह फिल्म आर माधवन की ट्रीम प्रोजेक्ट है। फिल्म के निर्देशन से लेकर इसके लेखन तक, हर पहलू को खुद आर माधवन ने ही संभाला है। 1 जुलाई यानी आज सिनेमाघरों में रिलीज हुई ‘रॉकेट्री: द नांबी इफेक्ट’ का लेखन, प्रोडक्शन, निर्देशन और इसमें अभिनय भी आर माधवन ने ही किया है।

कहानी
फिल्म की शुरुआत में ही नंबी का तिरस्कार औऱ गिरफ्तारी दिखाई गई है। कुछ अधिकारियों ने गुमराह कर उन्हें देश से गद्दारी करने के झूठे मामले मे फंसाया देते हैं, जिसके बाद 26 साल की लंबी लड़ाई लड़ने के बाद उन्हें इंसाफ देता है। साल 1998 में सुप्रीम कोर्ट नंबी नारायण को बेगुनाह घोषित करता है। लेकिन 80 साल के नंबी को कोर्ट के इस फैसले से खुश नहीं होते हैं। उनका कहना है कि जिन लोगों ने उन्हें फंसाया था, जब तक उन्हें सजा नहीं मिल जाती तब तक मुझे संतुष्टि नहीं मिलेगी। वहीं फिल्म में शाहरुख एक पत्रकार के किरदार में दिखेंगे, जो नारायण की जिंदगी के हर पहलू को दर्शकों तक पहुंचाने में उनकी मदद करेंगे। शाहरुख खान नम्बी नारायण का एक टीवी चैनल के लिए इंटरव्यू करके उनकी सारी कहानी जानते हैं।

एक्टिंग

फिल्म का पूरा भार माधवन के कंधों पर है, जिसमें उन्होंने 100 प्रतिशत दिया है, जो यादगार है। वहीं, शाहरुख खान विशेष भूमिका में अपनी छाप छोड़ते हैं। इसके अलावा, नंबी की पत्नी के रूप में सिमरन, उन्नी के रूप में सैम मोहन, साराभाई के रूप में रजित कपूर, कलाम के रूप में गुलशन ग्रोवर सभी ने बहुत अच्छा काम किया है। 

डायरेक्शन

डेब्यू डायरेक्टर के तौर पर आर माधवन ने ऐसा कमाल दिखाया है कि आप हैरान हो जाएंगे। वहीं फिल्म की सिनेमेटोग्राफी भी बहतरीन है। कुल मिलाकर इसरो वैज्ञानिक की यह फिल्म अवॉर्ड विनिंग फिल्म है । 

Written by Jyotsna Rawat

comments

.
.
.
.
.