Sunday, Nov 28, 2021
-->

'संता बंता प्राइवेट लिमिटेड' देखने से पहले ये Review जरूर पढ़ें

  • Updated on 4/22/2016

Navodayatimesनई दिल्ली (टीम डिजिटल)। निर्देशक आकाशदीप साबिर ने फिल्म का नाम तो काफी आकर्षक रखा है, लेकिन पूरी फिल्म में एक्टर्स की एक्टिंग के सिवाय ऐसा कुछ भी नहीं है जो आपको आकर्षित कर सके। इक्का दुक्का जगहों पर हंसी आती है लेकिन कहानी के साथ बोरियत दूर नहीं होती। फिल्म की सबसे कमजोर कड़ी इसकी कहानी है।

Review: मां बेटी के मासूम रिश्ते से सजी है 'नील बट्टे सन्नाटा'

फिल्म में एक्टर्स बमन ईरानी, वीर दास, नेहा धूपिया, राम कपूर, संजय मिश्रा, जॉनी लीवर सबने अपना-अपना किरदार अच्छे से निभाया है लेकिन कमजोर कहानी होने की वजह से आपको फिल्म के खत्म होने का इंतजार रहता है।

Navodayatimesकहानी
फिल्म की कहानी 'फिजी' में रहने वाले भारतीय 'हाई कमिश्नर' शंकर रॉय (अयूब खान) की है जिन्हें अगवा कर लिया जाता है। उनकी तफ्शीश के लिए भारत से सीक्रेट एजेंट्स संता (बमन ईरानी) और बंता (वीर दास) को भेजा जाता है। लेकिन फिजी पहुंचते ही कई सारे ट्विस्ट और टर्न्स आते हैं जिसमें संता बंता फंसते चले जाते हैं। अब क्या ये दोनों अपने मिशन में सफल होते हैं... ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

Review: मेडिकल विभाग के करप्शन को उजागर करती है 'लाल रंग'

बता दें कि आकाक्षदीप साबिर की फिल्म 'संता बंता प्राइवेट लिमिटेड' को लेकर काफी विवाद हो रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें…एंड्रॉएड ऐप के लिए यहांक्लिक करें.
comments

.
.
.
.
.