Tuesday, Sep 28, 2021
-->
shabana azmi share photo of husband javed akhtar with richard dawkins award jsrwnt

रिचर्ड डॉकिन्स जीतने वाले पहले भारतीय हैं जावेद अख्तर, पढ़ें क्यों दिया जाता है ये अवॉर्ड

  • Updated on 10/27/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जावेद अख्तर (javed akhtar) अक्सर करंट मुद्दों पर अपनी राय साझा करते रहते हैं, जिस वजह से कई बार उन्हें विरोध का सामना भी करना पड़ता है। फिलहाल जावेद अख्तर को अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है। जावेद अख्तर इस सम्मान को पाने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। यह पुरस्कार विश्व प्रसिद्ध अंग्रेजी विकासवादी जीवविज्ञानी रिचर्ड डॉकिंस (Richard Dawkins) के नाम पर दिया जाता है।

दरअसल, रिचर्ड डॉकिन्स नाम के इस अवॉर्ड का नॉमिनेशन करीब 4 महीने पहले जून 2020 में हो गया था। इस बात की जानकारी शबाना जून में ही दे चुकी थीं। फिलहाल शबाना ने सोशल मीडिया पर फोटो शेयर की है। शबाना ने फोटो शेयर करते हुए लिखा- जावेद अपने रिचर्ड डॉकिन्स 2020 अवॉर्ड के साथ।

शादी के बाद इस अंदाज में दिखीं नेहा कक्कड़, पति संग पहली तस्वीर हुई वायरल

बता दें कि ये अवॉर्ड 2003 से दिया जा रहा है और यह साइंस, एजुकेशन, रिसर्च या एंटरटेनमेंट फील्ड के नामी व्यक्ति को दिया जाता है, जो पब्लिकली धर्मनिरपेक्षता की रक्षा के लिए प्रयास करता है।

महेश भट्ट पर आरोप लगाने वाली लवीना लोध के पति ने दिया बयान, मामले में आया नया Twist

शबाना ने बताया क्यों मिला ये सम्मान
शबाना आजमी ने ट्वीट करते हुए बताया था कि आखिर जावेद अख्तर को ये सम्मान क्यों दिया गया। उन्होंने ट्वीट में लिखा- जावेद अख्तर ने रिचर्ड डॉकिन्स अवॉर्ड अपनी  क्रिटिक्ल थिकिंग, धार्मिक जड़ता की स्क्रूटनी, मानव प्रगति और मानवतावादी मूल्यों को आगे बढ़ाने के लिए जीता है। 

इस अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट होने के बाद जावेद ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था कि उन्होंने अवॉर्ड के बारे में तो कभी सोचा नहीं था। आगे उन्होंने कहा कि वे खुद इस बात से हैरान हैं कि आर्गनाइजर उनकी वे बातें सुनते थे जो उन्हें भारतीय राजनीति के बारे में कही थीं।

बता दें इस सम्मान की घोषणा के बाद से ही बॉलीवुड के कई बड़े सेलेब्स जावेद अख्तर को अवॉर्ड के लिए बधाइयां देने लगे थे। 

comments

.
.
.
.
.