Monday, Nov 18, 2019
smita-patil-birthday-special

B'day Spl: मौत के बाद स्मिता पाटिल को सुहागिन की तरह सजाया था इस सुपरस्टार के मेकअप आर्टिस्ट ने

  • Updated on 10/16/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बॉलीवुड की खूबसूरत एक्ट्रेस स्मिता पाटिल (Smita Patil) अपनी आंखो से ही सबकुछ कह दिया करती थी। बहुत कम उम्र में वो दुनिया को अलविदा कह गईं थी। आज के दिन उनका जन्म हुआ था। स्मिता का जन्म पुणे में हुआ था। इनके पिता शिवाजीराव पाटिल महाराष्ट्र सरकार में मंत्री रह चुके है व माता एक सामाजिक कार्यकर्ता थीं।

smita patil

स्मिता ने अपने 10 साल के छोटे से करियर में लगभग 80 फिल्में की और इनमें से कई एक से बढ़कर एक हिट फिल्में रहीं।स्मिता सिर्फ 31 साल की उम्र में दुनिया को छोड़ गईं थी। 13 दिसम्बर, 1986 को स्मिता पाटिल की मृत्यु हो गई थी।बॉलीवुड इंडस्ट्री में स्मिता एक ऐसा नाम है जिसे कोई कभी नही भुला सकता। स्मिता ने अपने फिल्मी सफर में ऐसी फिल्में कीं, जो भारतीय फिल्मों के इतिहास में यादगार बन गईं। जिनमें ‘भूमिका’, ‘मंथन’, ‘मिर्च मसाला’, ‘अर्थ’, ‘मंडी’ और ‘निशांत’ जैसी फिल्में शामिल हैं, वहीं दूसरी तरफ अमिताभ बच्चन संग ‘नमक हलाल’ और अन्य फिल्म ‘शक्ति’ भी शामिल हैं।

smitapatil

करियर शुरू करने के महज चार सालों के अंदर ही उन्होंने अपना पहला नेशनल अवॉर्ड जीत लिया था। साल 1977 में उन्हें फिल्म 'भूमिका' के लिए नेशनल अवॉर्ड मिला, वहीं साल 1980 में फिल्म 'चक्र' ने उन्हें यह अवॉर्ड दिलाया। साल 1985 में उन्हें पद्मश्री पुरस्कार से नवाजा गया। इसके अलावा पांच बार बेस्ट एक्ट्रेस का फिल्म फेयर अवॉर्ड भी मिल चुका है।

smita patil

स्ट्रगल के दौरान राज बब्बर को नादिरा से प्यार हो गया था जिसके बाद दोनों ने 1975 में शादी कर ली थी। राज बब्बर के तीन बच्चे हैं। जूही, आर्य और प्रतीक बब्बर। जूही और आर्य नादिरा से है और प्रतीक स्मिता और राज का बेटे हैं। स्मिता के निधन के बाद राज बब्बर फिर से अपनी पहली पत्नी नादिरा के पास वापस लौट गए थे। स्मिता के निधन के बाद नादिरा ने राज बब्बर को दोबारा अपनाया। राज बब्बर ने स्मिता से शादी करने के लिए अपना घर और नादिरा को छोड़ दिया था।

smita

स्मिता यह चाहती थीं कि मौत के बाद उन्हें शादीशुदा की तरह सजाया जाए। तब अमिताभ बच्चन के मेकअप आर्टिस्ट दीपक सावंत ने उन्हें तैयार किया था। स्मिता की मौत के बाद उनके शव को तीन दिन तक बर्फ में रखना पड़ा था, क्योंकि उनकी बहन अमेरीका में रहती थीं और उन्हें आने में समय लगा था।

smita

बेटे प्रतीक बब्बर को जन्म देने के दो सप्ताह बाद उनकी मौत हुई थी। यह कहा जाता था तब उचित देखरेख न होने से स्मिता की मौत हुई थी। 

 

comments

.
.
.
.
.