Thursday, Oct 28, 2021
-->
sonu sood wants to play himself in his biopic sosnnt

जल्द आएगी सोनू सूद की Biopic, लेकिन रखी यह बड़ी शर्त

  • Updated on 10/19/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अपनी फिल्मों में निगेटिव किरदार निभाने वाले बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद (sonu sood) रियल लाइफ में किसी सुपरहीरो से कम नहीं हैं। लॉकडाउन (lockdown) के दौरान सोनू सूद प्रवासियों के लिए एक मसीहा के रूप में उभरे हैं। उस दौरान वे एकलौते अभिनेता थे जो ग्राउंड पर उतर कर लोगों की मदद के लिए आगे आए थे और प्रवासियों को उनके घर तक पहुंचाया। शायद यही वजह है कि अब सोशल मीडिया पर लोग प्रशासन से पहले सोनू सूद से मदद की गुहार लगाते हुए नजर आ रहे हैं। 

लॉकडाउन में बेरोजगारी से परेशान 50 लड़कियों की सोनू सूद इस तरह करेंगे मदद

इस शर्त पर बायोपिक बनाने की अनुमति देंगे सोनू 
वहीं कोरोना काल में राहत प्रयासों के लिए मसीहा बनकर उभरें सोनू को ने अपने बायोरिक को लेकर एक बड़ी शर्त रखी है। उन्होंने कहा कि इसके लिए मुझे अभी लंबा रास्ता तय करना होगा। भगवान ने मुझे यह मौका दिया कि मैं खुद को समाज के लिए उपयोगी बना सकूं और अपनी उपलब्धियों पर पीछे न हटूं। अभी मुझे बहुत सारे काम करने हैं। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

🖤

A post shared by Sonu Sood (@sonu_sood) on Oct 14, 2020 at 7:25am PDT

सोनू आगे कहते हैं कि 'अगर कभी भी मेरी बायोपिक बनती है तो मैं खुद अपनी भूमिका निभाना चाहूंगा। जब ये मेरी बायोपिक है तो मुझे लगता है कि मैंने इसमें रहने का अधिकार अर्जित किया है। इसलिए यह मेरी बायोपिक बनाने के लिए यह एकमात्र मेरी शर्त होगी।' वहीं बता दें कि हाल ही में सोनू सूद को यूनाइटेड नेशंस डिवेलपमेंट प्रोग्राम (UNDP) की तरफ से स्पेशल ह्यूमनटेरियन ऐक्शन अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था। 

अभिनेता सोनू सूद की मदद से महिला को ऋषिकेश एम्स में मिली नई जिंदगी

बता दें कि अपने जन्मदिन के मौके पर सोनू सूद ने प्रवासी मजदूरों को नौकरी देने का ऐलान भी किया था  सोनू सूद ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि 'मेरे जन्मदिन के अवसर पर मेरे प्रवासी भाइयों के लिए http://PravasiRojgar.com का 3 लाख नौकरियों के लिए मेरा करार है। ये सभी अच्छे वेतन, PF,ESI और अन्य लाभ प्रदान करते हैं। इसके साथ ही उन्होंने   AEPC, CITI, Trident, Quess Corp, Amazon, Sodexo, Urban Co , Portea और अन्य सभी को धन्यवाद कहा था।

वहीं अपने जन्मदिन को और भी खास बनाने के लिए उन्होंने देश के कई राज्यों में मेडिकल कैंप खोलने का भी फैसला लिया था। माना जा रहा है कि सोनू सूद के इस मुहिम से 50 हजार लोग जुड़ेंगे। ता दें कि इस फ्री कैंप्स के लिए उत्‍तर प्रदेश, झारखंड, पंजाब और ओडिशा के कई डॉक्‍टरों के साथ सोनू सूद टच में हैं जहां लोग अपना चेकअप करा सकेंगे।

सोनू सूद ने काशी के 220 नाविकों की मदद कर निभाया वादा, मदद पाकर लोगों ने कही ये बात

रोज 20 घंटे काम करते हैं सोनू सूद
वहीं इस कोरोना काल में सोनू सूद एक मसीहा बनकर आए और लोगों की मदद की। किसी के लिए टिकिट, किसी के लिए साधन, किसी के लिए पैसा... जिसको जिस चीज की जररुत थी उसके लिए वही किया। भुवनेश्वर में फंसी लड़कियों को उनके घर तक पहुंचाया, एक गर्भवती महिला को बचाया जिससे उसने अपने बच्चे का नाम सोनू रख दिया। तो वहीं किर्गिस्तान में फंसे छात्रों के लिए चार्टर उड़ानों की व्यवस्ता की। आज भी सोनू 20 घंटे काम कर रहे है और फ्री कॉल सेंटर चला रहे हैं। ताकि इस हालात में वो लोगों की मदद कर सके।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.