Tuesday, Nov 29, 2022
-->
subhash-ghai-name-also-out-under-the-metoo-read-story

#MeToo: डायरेक्टर सुभाष घई पर भी लगा गंभीर आरोप, जानकर उड़ जाएंगे होश

  • Updated on 10/15/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। #MeToo के तहत बॉलीवुड से एेसे नाम समाने आ रहे हैं की बिश्वास करना भी मुश्किल है। आपको बता दें, बॉलीवुड के जाने-माने डायरेक्ट सुभाष घई का नाम भी अब सबके सामने आया है। एक महिला ने सुभाष पर जबरन रेप करने का आरोप लगाया है। इस महिला का नाम सामने नही आया है लेकिन जो आपबीती सोशल मीडिया के जरिए सबके सामने आई है वह दिल देहला देने वाली है। 

#MeToo: कैलाश खेर पर आरोपों के बाद सोना मोहपात्रा ने अनु मलिक को कही इतनी बड़ी बात

महिमा कुकरेजा नाम की एक महिला ने पडि़ता के साथ हुई बातचीत का स्क्रिनशॉट सोशल मीडिया पर शेयर किया है। महिला ने अपने साथ हुई घटना के बारे में बताते हए लिखा है की,  मैं सुभाष घई के साथ एक फिल्म में काम कर रही थी। उस दौरान इंडस्ट्री में मेरा जानने वाला कोई नहीं था, तब सुभाष घई ने कहा वह मुझे गाइड करेंगे और आगे बढ़ाएंगे। इसके बाद धीरे-धीरे वह मेरे करीब आने लगे। 

शुरुआत में वह मुझे लोखंडवाला में स्थित उनके छोटे से अपॉर्टमेंट में स्क्रिप्ट सेशन के लिए भी बुलाने लगे। उनका कहना था कि वह दूसरी अभिनेत्रियों के साथ भी वहीं पर स्क्रिप्ट पढ़ा करते थे। मैं जब वहां पहुंची तो उस दो बेडरूम के घर में वह अकेले थे। वहां उनकी पत्नी नहीं रहती थीं। वह कहते थे कि यहीं पर बैठकर वह फिल्मों के बारे में आइडिया सोचते हैं और उन पर काम करते हैं।' इसके बाद वह मेने करीब आने लगे वह रोने का नाटक करने लगे और अपना सिर मेरी गोदी में रख दिया। वह जब उठे तो मुझे जबरन किस करने लगे। मैं शॉक्ड रह गई और वहां से चली गई।

मैंने इस बारे में सिर्फ दो और लड़कियों को बताया जिनके साथ भी सुभाष घई ने ऐसा व्यवहार किया था। एक शाम रिकॉर्डिंग करते हुए फिर देर रात हो गई। फिर सुभाष घई ने एक ड्रिंक पी और मुझे भी पीने के लिए दी लेकिन उसमें कुछ मिला रखा था। इसके बाद मुझे सिर्फ इतना याद है कि मैं उनकी कार में बैठी और मुझे लगा कि वह घर ड्रॉप करेंगे। इसके बाद वह मुझे होटेल ले गए। मैं ठीक से चल नहीं पा रही थी, लेकिन उन्होंने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे कमरे में ले गए। उन्होंने मेरी जींस उतारी और मेरे ऊपर आ गए। मैंने चिल्लाने की कोशिश की लेकिन उन्होंने मेरे मुंह पर हाथ रख दिया। इसके बाद उन्होंने मेरा रेप किया जब दूसरे दिन मेरी निंद खुली तो सोफे पर लाल निशान थे और वह बिखरा हुआ था। जिसे देख मुझे उल्टी आ गई।

अापको बता दें, अपने ऊपर लगे इल्जामों को सुभाष घई ने सिधे-सिधे नकार दिया है। सुभाष का कहना है की 'यह काफी दुखद है कि सोशल मीडिया पर दूसरे के नाम को घसीटकर पुरानी और निराधार कहानियों को शेयर कर बदनाम किया जा रहा है। मैं सभी आरोपों को पूरी तरह से नकारता हूं।' 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.