Friday, Jan 28, 2022
-->
sushant friend sandeep singh shocking call details sosnnt

सीबीआई के घेरे में संदीप सिंह, Call Details में पकड़ा गया यह झूठ

  • Updated on 8/26/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। सुशांत सिंह राजपूत मामले में आज सीबीआई जांच का पांचवा दिन है और सुबह से ही सीबीआई के हाथ कई सबूत लग चुके हैं। वहीं इसी बीच खुद को सुशांत का करीबी दोस्त कहने वाले संदीप सिंह को लेकर एक अजीब खुलासा हुआ है जिसे सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे। 

सुशांत को नहीं था शौहरत का लालच, अपने Awards का करते थे ये हाल

सीबीआई के घेरे में संदीप सिंह
दरअसल, हाल ही में संदीप की कॉल डिटेल्स सामने आई हैं जिसमें कई सारे बड़े खुलासे हुए हैं। बता दें कि सुशांत को अपना दोस्त कहने वाले संदीप पिछले 1 साल से एक्टर के टच में ही नहीं थे। जी हां, पिछले 1 साल से दोनों के बीच किसी भी तरह का संपर्क नहीं था और ना ही किसी एक कॉल कभी कॉल किया। बावजूद इसके आखिर क्यों संदीप सुशांत को अपना अच्छा दोस्त बता रहे हैं। ऐसे में वे सीबीआई के शक के घेरे में आ चुके हैं। 

बता दें कि सुशांत की मौत के बाद अस्पताल से लेकर शमशान घाट तक संदीज आगे रहे थे। वहीं उनकी देख रेख के अंदर क्रिया कर्म का सारा काम किया गया। इसके अलावा संदीप को सुशांत की बहन के साथ भी देखा गया।

 सुशांत के परिवार का आरोप- एक्टर की मौत के बाद किचन में खाना बना रहे थे उनके Flatmates

सुशांत के फ्लैटमेट्स पर लगे ये गंभीर आरोप
बता दें कि सीबीआई इस केस की जांच करते हुए लगातार सुशांत से जुड़े लोगों से पूछताछ कर रही है। इन लोगों में जो मुख्य शामिल हैं वो सुशांत के फ्लैटमेट सिद्धार्थ पिठानी (Siddharth Pithani) , सुशांत के कुक नीरज और उनके हाउस मैनेजर दीपेश सावंत है। इनके साथ-साथ सुशांत के एक और कुक केशव से भी पूछताछ की जा रही है।  इसी बीच सुशांत के परिवार ने उनके फ्लैटमेट्स पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। एक मीडिया हाउस के साथ बातचीत में उन्होंने सुशांत के फ्लैटमेट्स के बारे में बात करते हुए बताया कि एक्टर की मौत के बाद उनके फ्लैटमेट्स किचन में खाना बना रहे थे। 

सुशांत के परिवार ने अपने आरोप में कहा है कि सुशांत की मौत के बाद जब वो रात को एक्टर के फ्लैट पर पहुंचे तो उनके फ्लैटमेंट्स किचन में खाना बना रहे थे। इतना ही नहीं परिवार का ये भी कहना है कि सुशांत के फ्लैटमेट्स बहुत ही सामान्य बर्ताव कर रहे थे जैसे कि कुछ हुआ ही ना हो।

 

comments

.
.
.
.
.