Wednesday, Oct 05, 2022
-->
varun dhawan kiara advani neetu kapoor and anil kapoor starrer Jugjugg Jeeyo Movie Review

Review: कैसे टिकतीं हैं शादियां, Jugjugg Jeeyo में नीतू कपूर ने बताए ये दो फॉमूले

  • Updated on 6/24/2022
  • Author : Jyotsna Rawat

फिल्म : जुग जुग जियो (Jugjugg Jeeyo )
निर्देशक : राज मेहता (Raj Mahta)
कलाकार : वरुण धवन (Varun Dhawan), कियारा आडवाणी (Kiara Advani) , नीतू कपूर (neetu kappor), अनिल कपूर (Anil Kapoor), प्राजक्ता कोली (prajakta koli), मनीष पॉल (manish paul), टिस्का चोपड़ा (Tiska Chopra)
रेटिंग : 4/5

Jugjugg Jeeyo Movie Review: लंबे समय के बाद एक फैमिली एंटरटेनिंग फिल्म 'जुग जुग जियो' आई है। प्यार, परिवार और टूटते रिश्तों पर आधारित इस फिल्म में इमोशन और कॉमेडी का जबरदस्त तड़का है। फिल्म में कियारा आडवाणी, वरुण धवन, नीतू कपूर, अनिल कपूर, मनीष पॉल, टिस्का चोपड़ा और प्राजक्ता कोली अहम किरदारों में हैं। राज मेहता के डायरेक्शन में बनी 'जुग जुग जियो' करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शंस और वायकॉम 18 स्टूडियो द्वारा निर्मित है। 24 जून यानी आज यह फिल्म सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। डायरेक्टर राज मेहता इससे पहले दो पंजाबी फ्लेवर वाली फिल्म 'गुड न्यूज' और 'कपूर एंड संस' में असिस्टेंट डायरेक्टर रह चुके हैं। इस फिल्म में भी वैसी ही मस्ती, मजा और नोंकझोंक है।

कहानी
यह पटियाला में रहने वाली एक पंजाबी फैमिली की कहानी है, जिसमें घर की छोटी बेटी गिन्नी (प्राजक्ता कोली) की शादी होने वाली है। गिन्नी अपने मां- बाप और भाई- भाभी की जोड़ी को आदर्श मानती है। लेकिन उसकी इसी शादी के दौरान दोनों की शादियां टूटने के कगार पर होती है। मां गीता (नीतू सिंह) ,बाप भीम सैनी (अनिल कपूर) और भाई कुक्कू (वरुण धवन) व भाभी नैना शर्मा (कियारा अडवाणी) के किरदार में हैं।

कुक्कू बचपन का प्यार नैना शर्मा से शादी करके उसकी जॉब की वजह से कनाडा सेटल हो जाता है। इसलिए उसे बाउंसर की नौकरी करनी पड़ती है। जिससे वह जल्दी फ्रस्ट्रेशन में आ जाता है। इसकी वजह से दोनों का रिश्ता तलाक तक आ पहुंचता है। तलाक की यह बात नैना और कुक्कू बहन की शादी के बाद घरवालों को बताने का फैसला करते हैं।

कहानी में ट्विस्ट तब आता है जब इसी बीच कुक्कू अपने पिता के अफेयर का पता चलता है। नैना का भाई कुक्कू का  बचपन का दोस्त गुरप्रीत (मनीष पॉल) इन सब पचड़ों से निकलने में उसकी मदद करता है।

फिल्म में हमारे समाज की सच्चाई दिखाई गई है कि कैसे आज भी बहुत सी बेटियों की शादी अनजाने पुरुष के साथ कर दी जाती है। दोनों ठीक से पति पत्नी बन भी नहीं पाते कुछ ही समय में माता पिता बन जाते हैं। फिर जब बच्चे बड़े होकर दूर पढ़ने- लिखने आ नौकरी के लिए जाते हैं, तो दोनों को फिर से पति पत्नी बनने का मौका मिलता है, लेकिन तब तक दोनों एक दूसरे की आदत बन चुके होते हैं। अब आदतें तो छूटती नहीं है और रिश्ता ऐसे ही चलता रहता है। यही फिल्म का प्लॉट है। अब यह जानने के लिए की भीम सैनी और कुक्कू की शादी बचती है या तलाक हो जाता है आपको फिल्म देखनी होगी।

एक्टिंग

एक्टिंग की बात करें तो मनीष पॉल के बिना फिल्म अधूरी रहती। कियारा और वरुण का काम बहुत अच्छा है आखिर में दोनों का एक लंबा इमोशनल सीन है, जिसमें आप इतने खो जाएंगे की आपको वो सच लगते लगेगा। वहीं नीतू सिंह और अनिल कपूर तो हैं ही फिल्म की जान।  

डायरेक्शन

स्क्रीन प्ले औऱ सिनेमाटोग्राफी बहतरीन है। डायलॉग्स और पंचेज गजब के हैं। क्लाइमैक्स भी काफी इमोशनल कर देनेवाला है। 

(Edited by Jyotsna Rawat)

comments

.
.
.
.
.