Monday, Jan 27, 2020
vidhu-vinod-chopra-shooting-for-4000-real-kashmiri-pandit-refugees-in-shikara-video

Video: विधु विनोद चोपड़ा ने 'शिकारा' में 4000 असली कश्मीरी पंडित शरणार्थियों के साथ की शूटिंग

  • Updated on 1/14/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। निर्देशक विधु विनोद चोपड़ा (Vidhu Vinod Chopra) ने ‘शिकारा’ (Shikara) की कहानी को यथासंभव प्रामाणिक बनाए रखने की हर मुमकिन कोशिश की है। वास्तविकता से प्रेरित प्रयास की झलक साझा करते हुए, निर्देशक ने आज एक वीडियो शेयर किया है जिसमें यह दर्शाया गया है कि कैसे 1990 के कश्मीरी घाटी के निराकरण को रीक्रिएट करने के लिए एक बार फिर चार हजार असली कश्मीरी पंडित एक साथ एकत्रित हुए थे। वास्तविक लोगों से ले कर वास्तविक कहानियों तक, 'शिकारा' में सब कुछ वास्तविकता के बेहद करीब रखा गया है। 

विधु विनोद चोपड़ा ने 'शिकारा' का ये BTS वीडियो किया शेयर
विधु विनोद चोपड़ा फिल्म्स द्वारा यह वीडियो साझा किया गया है और लिखते है, 30 साल बाद, 4,000 से अधिक रियल कश्मीरी पंडित शरणार्थियों ने 19 जनवरी 1990 के दिन को इस उम्मीद में रीक्रिएट किया कि इस बार उनकी कहानी अनसुनी नहीं की जाएगी। 

फिल्म ’शिकारा’ के ट्रेलर की कश्मीरी पंडितों ने की प्रशंसा

वीडियो में कश्मीरी पंडित की कहानी को किया है उजागर
वीडियो में, हम विभिन्न स्थानों से विभिन्न कश्मीरी पंडित शरणार्थियों को अपने उस सफर को याद करते हुए देख सकते हैं, जिस दौरान उन्हें 1990 में अपने घरों को छोड़ना पड़ा था। भरी हुई बस का दृश्य इस सफर को बहुत वास्तविक बनाता है। वही, उस समय के बारे में हमें बताते हुए, कई लोग भावुक भी हो गए थे। प्रत्येक शरणार्थी के पास बताने के लिए एक अलग कहानी है और यही चीज, कहानी को बेहद भावपूर्ण बनाती है। जिसके बाद 2018 में, 4,00,000 शरणार्थियों में से, चार हजार शरणार्थी 30 साल बाद अपना निर्वासन बनाने के लिए एक साथ आए थे। वही, इस बीटीएस में हमें शूटिंग के दृश्यों के पीछे की झलक से रूबरू करवाया गया है।

फिल्म निर्माता ने फिल्म ‘शिकारा’ को लेकर कही ये बात
इससे पहले, फिल्म निर्माता ने व्यक्त किया था कि वह फिल्म को रियल रखने के लिए कितने तत्पर है। इसलिए, उन्होंने जगती शरणार्थी शिविर के निवासियों और अन्य शिविरों के साथ शूटिंग की है, जो फिल्म में प्रामाणिकता बना सकते है। 'शिकारा' में 1990 की घाटी से कश्मीरी पंडितों की अनकही कहानी को सुनाया जाएगा। 

विधु विनोद चोपड़ा की 'शिकारा- ए लव लेटर फ्रॉम कश्मीर' का आधिकारिक मोशन पोस्टर हुआ रिलीज

वही, 'शिकारा' के ट्रेलर को अपनी दिल छू लेने वाली कहानी के लिए सभी से सराहना मिल रही है। वर्ष 1990 के कश्मीर के एक शक्तिशाली चित्रण के साथ, विधु विनोद चोपड़ा के निर्देशन बनी इस फ़िल्म ने दर्शकों को अधिक प्रत्याशित कर दिया है।

'शिकारा' का ट्रेलर हुआ रिलीज, कश्मीरी पंडितों के दर्द को बयां करती है फिल्म की कहानी

इतना ही नहीं, सोशल मीडिया पर न केवल कश्मीरी पंडितों के पूरे समुदाय से फ़िल्म को सरहाना मिल रही है, बल्कि देश के सभी निवासी के बीच प्रशंसा का पात्र बनी हुई है, जिन्हें इस फिल्म के जरिये इतिहास की झलक अपनी स्क्रीन पर देखने मिल रही हैं। फ़िल्म बिरादरी के सदस्यों से लेकर बॉलीवुड के तमाम सितारों तक, हर कोई ट्रेलर की तारीफ कर रहा है!

विधु विनोद चोपड़ा की फिल्म 'शिकारा - अ लव लेटर फ्रॉम कश्मीर' 7 फरवरी, 2020 में रिलीज के लिए तैयार है। फॉक्स स्टार स्टूडियोज द्वारा प्रस्तुत, यह फिल्म विनोद चोपड़ा प्रोडक्शंस द्वारा निर्मित और फॉक्स स्टार स्टूडियो द्वारा सह-निर्मित है।

comments

.
.
.
.
.