Monday, Jan 27, 2020
these tips will help to prevent dengue diseases in your body

मानसून के सीजन में घातक हो जाते हैं डेंगू के मच्छर, ऐसे करें बचाव

  • Updated on 7/26/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मानसून का सीजन (Monsoon Season) चल रहा है और इस सीजन में जहां मई जून की भीषण गर्मी (Wave Heat) के बाद लोग राहत की सांस ले रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर लोगों के लिए बीमारियों (Dieases) का खतरा भी बढ़ता जा रहा है। ये सीजन ऐसा है जिसमें इंसान को अधिकतर बीमारियां होती हैं जो ज्यादातर मच्छरों (Mosquitos) की वजह से फैलती है।

बिहार : हर साल बाढ़ के बाद आती है ये भयंकर बीमारी, इलाज की नहीं है कोई व्यवस्था

बारिश के सीजन में मच्छरों की बढ़ती है तादाद

बारिश के मौसम (Rainy Season) में मच्छरों की तादाद बढ़ जाती है जिसमें ज्यादातर मलेरिया (Malaria), चिकनगुनिया (Chickengunia) और डेंगू (Dengue) के मच्छर आदि शामिल होते हैं। लेकिन इन सब में जो मच्छर ज्यादा घातक (Dangerous) और खतरनाक होते हैं उसका नाम है डेंगू।

मानसून के सीजन में अपने बच्चों की सेहत का रखें कुछ इस तरह ख्याल

डेंगू के मच्छर काटने पर तुरंत कराएं इलाज

जी हां, डेंगू ही एक ऐसा मच्छर है जिसके काटने के बाद आपके शरीर में तुरंत प्लेटलेट्स (Platelets) कम होने लगते हैं और वक्त आने पर अगर इसका इलाज (Treatment) नहीं किया गया तो उस इंसान की जान भी जा सकती है। डेंगू के इस मच्छर को एडीज (Aedes) मच्छर भी कहा जाता है।

मलेरिया जैसी गंभीर बीमारी को एनोफ़िलीज़ देती है जन्म, ये होते है लक्षण

बता दें कि, इस सीजन में जरूरी है कि इस घातक एडीज (Aedes) मच्छर से ज्यादा से ज्यादा बचा जाए। और उन मरिजों (Patients) को इस बीमारी से ज्यादा सचेत रहना चाहिए, जो पहले भी इसकी चपेट में आ चुके हैं। चलिए जानते हैं कि वक्त आने पर डेंगू से कैसे करना चाहिए अपना बचाव।

इस सीजन में बचाव करने के लिए अपनाए ये तरीके

  • मच्छरों को मारने के लिए शरीर पर मॉस्किटो रिपेलन्ट (Mosquito repellant) का करें इस्तेमाल।
  • बारिश के सीजन में घर के दरवाजों को खुला ना रखें और खिड़कियों पर जाली लगाएं।
  • इस सीजन में मच्छरों को अपने आप से दूर रखने के लिए शरीर पर पूरे कपड़े पहने। (पूरी स्लीव की शर्ट और पैरो को भी अच्छे से करें कवर)
  • सोने से पहले अपने बिस्तर पर मच्छरदानी लगाएं और मच्छरों को मारने के लिए मार्टिन या कॉइल जलाएं।
  • अगर इंसान को लगे की उसकी तबीयत ज्यादा खराब है या फिर उसे कुछ ठीक नहीं लग रहा है तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं।
comments

.
.
.
.
.