Tuesday, Jul 23, 2019

#HappyBirthdayDada: ऐसा कप्तान जिसने टीम इंडिया को दिए कई स्टार खिलाड़ी

  • Updated on 7/8/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारतीय क्रिकेट (Indian Cricket) के पूर्व कप्तान और भारतीय क्रिकेट को जीतने का मंत्र देने वाले सौरव गांगुली (Saurav Ganguly) आज 47 साल के हो गए हैं। वह भारत के सबसे बेहतरीन कप्तानों में शामिल। टीम इंडिया के दादा यानि सौरव गांगुली शानदार बल्लेबाज के साथ-साथ उम्दा कप्तान भी थे. गांगुली को भारत के सबसे बेहतरीन कप्तानों में माना जाता है जिन्होंने टीम को एकजुट होकर खेलना सिखाया। गांगुल की कप्तानी में कई खिलाड़ियों ने अपने करियर का सबसे शानदार समय देखा।

Image result for sourav ganguly with dhoni

महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) भारत के सबसे सफल कप्तान माने जाते हैं। धोनी ने गांगुली के कप्तानी में ही अपना डेब्यू किया। धोनी ने 2007 में भारत को टी-20 विश्व कप, 2011 में वनडे विश्व कप और 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब दिलाया था। धोनी ने अब तक 349 वनडे मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 10723 रन बनाए और 10 शतक भी लगाए हैं। तो वहीं 90 टेस्ट मैचों में 4876 रन बनाए हैं, जिसमें 6 शतक भी शामिल है। टी-20 में धोनी ने 98 मैच खेलकर 1617 रन बनाए हैं।

Image result for sourav ganguly with yuvraj singh

युवराज सिंह

युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने भी सौरभ गांगुली के समय पर अपना डेब्यू किया था। नैटवेस्ट ट्रॉफी के फाइनल में युवराज ने जो कमाल किया वो सभी को याद होगा। युवराज की उस पारी ने भारत को युवराज के तौर पर एक मैच फिनिशर दे दिया था। युवराज ने टेस्ट में तो खासा कुछ नहीं किया पर उन्होंने वनडे में कई रिकॉर्ड बनाए और 2011 के विश्व कप में तो वो मैन ऑफ दी सीरीज भी रहे। युवराज ने 304 वनडे में 8701 रन बनाए हैं। तो वहीं 58 टी-20 में 1177 रन बनाए हैं। वनडे में युवराज ने 14 शतक भी बनाए हैं।

अमेरिका ने दूसरी बार जीता फीफा वुमन्स वर्ल्ड कप, नीदरलैंड को दी 2-0 से शिकस्त

Image result for sourav ganguly with harbhajan singh

हरभजन सिंह

हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने सौरव गांगुली को कप्तानी मिलने से पहले डेब्यू किया था। हरभजन गांगुली के सबसे विश्वास पात्र गेंदबाज रहे जो विरोधियों के खिलाफ प्लान में अहम हिस्सा हुआ करते थे। गांगुली की कप्तानी में उन्होंने 37 मैच खेले जिसमें 177 विकेट हासिल किए। उनके करियर का यह सबसे बेहतरीन समय था।

Image result for sourav ganguly with pathan

इरफान पठान

इरफान पठान (Irfan Pathan) को भी सौरव गांगुली की ही खोज माना जाता है। वड़ोदरा के पठान की एक समय पर कपिल देव से तुलना की जाती थी। पठान ने गांगुली की कप्तानी में 32 वनडे में 53 और 11 टेस्ट में 57 विकेट लिए। हालांकि गांगुली के जाने के बाद उनका करियर का ग्राफ भी नीचे चला गया था। 

भारत के इस स्टेडियम खेला जाएगा अफगानिस्तान प्रीमियर क्रिकेट लीग, BCCI ने दी मंजूरी

Image result for sourav ganguly with sehwag

वीरेंद्र सहवाग

वीरेंद्र सहवाग (Virendra Sehwag) ने गांगुली की कप्तानी में ही अपना अंतरराष्ट्रीय डेब्यू किया था। वह शुरुआत में नंबर छह पर बल्लेबाजी करने आते थे पर उन्हें फिर ओपनिंग का मौका दिया गया। वनडे में उन्होंने बहुत शानदार प्रदर्शन नहीं किया लेकिन टेस्ट में उनके रिकॉर्ड कमाल के रहे।

Image result for sourav ganguly with dravid

राहुल द्रविड़

सौरव गांगुली की कप्तानी में ही राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने अपने करियर के सबसे शानदार दिन देखे। गांगुली की कप्तानी में खेले गए 49 टेस्ट मैचों में 73.31 की शानदार औसत से उन्होंने 4912 रन बनाए। वहीं 133 वनडे में 4223 रन अपने नाम किए।

भारत विरोधी बैनर के बाद खिलाड़ियों की सुरक्षा को लेकर BCCI ने ICC को लिखा पत्र

Image result for ganguly and sachin playing

सचिन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulker) सौरव गांगुली के टीम में आने से पहले ही अपना नाम बना चुके थे। हालांकि गांगुली की कप्तानी में उन्होंने कई बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किए। गांगुली की कप्तानी में उन्होंने 42 टेस्ट खेले और 62.80 की औसत से 3768 रन बनाए। वहीं वनडे में उन्होंने 50 की औसत से 4490 रन बनाए।  
 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.