Friday, Dec 03, 2021
-->
#howdymodi love houston and dominate the world

#HowdyModi: ह्यूस्टन को भाए और पूरी दुनिया में छाए, मेगा शो की 10 प्रमुख बातें

  • Updated on 9/23/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का अमरीका (America) में बाहें फैलाकर स्वागत हो रहा है। टेक्सास (Texas) शहर ह्यूस्टन (Houston) में उन्होंने न सिर्फ 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम (Howdy Modi Event) में हिस्सा लिया, बल्कि उससे पहले भारतीय समुदाय (Indian community) के लोगों के प्रतिनिधिमंडलों से भी मुलाकात की। अमरीका की ऊर्जा कंपनियों के मुख्यकार्यकारी अधिकारियों के साथ भारत (India) में निवेश बढ़ाने पर भी चर्चा की।

PM मोदी ने राष्ट्रपति ट्रंप को बताया विशेष शख्सियत, उनके योगदान की सराहना की

भारतीय समुदाय गदगद
अमरीका में रह रहा भारतीय समुदाय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ह्यूस्टन यात्रा (Houston Trip) से काफी उत्साहित है। हाउडी मोदी (Howdy Modi) को समुदाय के लिए ऐतिहासिक बताते हुए ह्यूस्टन में भारतीय अमरीकी डॉक्टरों के संगठन के पूर्व अध्यक्ष राकेश मंगल ने कहा कि ट्रंप का कार्यक्रम में हिस्सा लेना यह दिखाता है कि भारत, अमरीका के लिए कितना महत्वपूर्ण है। रिपब्लिकन हिंदू कॉलिशन के शलभ कुमार ने कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति का मंच साझा करना ‘स्पष्ट रूप से यह दिखाता है कि पाकिस्तान को लेकर अमरीका का रुख क्या है। यह पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Imran Khan) के मुंह पर तमाचा है।’ न्यू मेक्सिको (New Mexico) से इस कार्यक्रम के लिए ह्यूस्टन आए सतपाल सिंह खालसा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी सिख समुदाय के लिए जो काम कर रहे हैं, उसके लिए हम यहां उनके स्वागत के लिए हैं।

ह्यूस्टन में बोले PM मोदी, धैर्य हमारी पहचान, लेकिन अब हम अधीर हैं

मंच से दिखी भारतीय संस्कृति की झलक
हाउडी मोदी के मंच पर भारत और अमरीका की साझी संस्कृति की झलक दिखी। रंगारंग कार्यक्रम के दौरान भारतीय और अमरीकी समुदाय के कलाकारों ने शानदार प्रस्तुतियां दीं। वीणा पर ‘सारे जहां से अच्छा हिंदुस्तां हमारा’ और ‘मानुष जन तो ताने कहिए’ की प्रस्तुति खास रही। ह्यूस्टन का एनआरजी स्टेडियम (NRG Stadium) पूरी तरह से भरा था। अमरीका में बसे भारतीय समुदाय के 50 हजार से ज्यादा लोग इस कार्यक्रम में मौजूद थे।

सिख समुदाय ने सिरोपा भेंट कर किया शुक्रिया
पंजाब (Punjab) में आतंकवाद (Terrorism) के दौरान भारत की ओर से काली सूची में डाले गए 312 लोगों के नाम इससे हटाए जाने पर अमरीका के विभिन्न हिस्सों से आए सिखों के 50 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रिया अदा किया। मोदी सरकार (Modi Government) ने जिन लोगों के नाम काली सूची से हटाए हैं, उन सभी पर देश विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने के आरोप थे। समुदाय के सदस्यों ने शनिवार को ह्यूस्टन में मोदी से मुलाकात की और उन्हें पारंपरिक 'सिरोपा' भेंट किया। प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा रहे इंडियाना के गुरिंदर सिंह खालसा ने कहा कि हमने प्रधानमंत्री से राजनीतिक शरण चाहने वाले सिखों के लिये वीजा और पासपोर्ट सेवा उपलब्ध कराने का अनुरोध किया क्योंकि यह अमरीका में बड़ी तादाद में रहने वाले सिख समुदाय के लिए ऐसे समय में अहम है जब हम गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाश वर्ष मनाने जा रहे हैं।"

अमेरिका से सालाना 50 लाख टन LNG आयात करेगा भारत

कश्मीरी पंडित ने मोदी का हाथ चूमा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कश्मीरी पंडितों के 17 सदस्यों वाले एक प्रतिनिधिमंडल से यहां मुलाकात की और उन्हें 'एक नए कश्मीर के निर्माण' का आश्वासन दिया। इस दौरान एक कश्मीरी पंडित (Kashmiri Pandit) ने मोदी का हाथ चूमकर उन्हें धन्यवाद दिया। इस प्रतिनिधिमंडल में अमरीका के अलग-अलग हिस्सों के प्रतिनिधि शामिल हैं। प्रधानमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल से कहा कि कश्मीर में नई हवा बह रही है और हम साथ मिलकर एक नया कश्मीर बनाएंगे, जो सबके लिए होगा।

UNGA को संबोधित करने के लिए मोदी न्यूयॉर्क रवाना

प्रधानमंत्री ने बाद में ट्वीट भी किया, "कश्मीरी पंडितों से ह्यूस्टन में विशेष चर्चा हुई।" प्रतिनिधिमंडल ने मोदी को एक मसौदा ज्ञापन भी दिया और उनसे आग्रह किया कि इस समुदाय को साथ लाने, क्षेत्र के विकास और कश्मीरी पंडितों की वापसी के लिए गृह मंत्रालय के तहत एक कार्यबल की स्थापना की जाए। इस प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करने वाले सुरिंदर कौल ने कहा, "प्रधानमंत्री ने हमसे कहा कि हम लोगों ने काफी कुछ झेला है और अब हम साथ मिलकर एक नए कश्मीर का निर्माण करेंगे।"

मोदी के लिए रेड कार्पेट, इमरान को रिसीव करने कोई नहीं पहुंचा

मुस्लिम समुदाय भी पहुंचा
हाउडी मोदी कार्यक्रम में अमरीका में बसे भारतीय समुदाय के सभी धर्मों और वर्गों के लोगों ने प्रतिनिधित्व किया। अमरीका में बसे मुस्लिम समुदाय में इस कार्यक्रम को लेकर काफी उत्साह था। अच्छी संख्या में समुदाय के लोग अपनी पारंपरिक वेशभूषा में एनआरजी स्टेडियम में दिखे।

...और 'गांधी जी' भी
टेक्सास के शहर ह्यूस्टन के एनआरजी फुटबाल स्टेडियम (NRG Football Stadium) में हर ओर भारतीय संस्कृति की ही झलक दिख रही थी। खचाखच भरे स्टेडियम में एक व्यक्ति महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की भेष में भी नजर आया। वह भीड़ का अच्छा ध्यान खींच रहा था। बच्चे ही नहीं बड़े भी साथ सेल्फी ले रहे थे।

#HowdyMody: अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने मोदी को Happy Birthday कहते हुए बधाई दी

यह है हमारी महान दोस्ती की बड़ी चाबी
ह्यूस्टन के मेयर सिल्वेस्टर टर्नर (Sylvester Turner) ने मोदी का स्वागत करते हुए कार्यक्रम के महत्त्व का उल्लेख किया और कहा कि भारतीय इस शहर के विकास में अहम रहे हैं। ह्यूस्टन सबसे विविध शहर है। ह्यूस्टन में हम 140 से ज्यादा भाषाओं में हाउडी कहते हैं। आज सुबह हम मोदी को हाउडी कह रहे हैं। कार्यक्रम में मोदी का स्वागत करने के बाद टर्नर ने उन्हें ह्यूस्टन शहर की चाबियां प्रस्तुत की, जो देश की उन जगहों में से एक है जहां भारतीय-अमरीकी समुदाय की संख्या बहुत ज्यादा है।’ 

#HowdyMody: पीएम नरेंद्र मोदी के बढ़ते कद के पीछे का जानें सच

राष्ट्रपति की मुहर हटाकर दोस्ती का ध्वज लगाया
अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) प्रशासन ने भारत और अमरीका के संबंधों को दर्शाने का असाधारण तरीका अपनाते हुए राष्ट्रपति के भाषण मंच से राष्ट्रपति की मुहर को हटा कर 'भारत-अमेरिका दोस्ती ध्वज' प्रतीक अंकित किया। परंपरा के अनुसार, प्रत्येक मंच जहां से अमरीकी राष्ट्रपति भाषण देते हैं, चाहें संयुक्त संवाददाता सम्मेलन हो या चुनावी भाषण या घरेलू अथवा विदेशी स्तर पर बोलना हो, उस पर राष्ट्रपति का प्रतीक मौजूद होता है। हालांकि इसमें कुछ बदलाव करते हुए और कई के लिए इसे सुखद आश्चर्य साबित करते हुए राष्ट्रपति के भाषण मंच पर एक गोलाकार प्रतीक अंकित किया गया, जिसमें अमरीका और भारत दोनों के ध्वज बने हुए थे।

मोदी के ताल पर जब थिरकेंगे भारतवंशी तो देखते रह जाएंगे ट्रंप

डेमोक्रेट सांसद ने किया स्वागत
डेमोक्रेट स्टेनी होयर ने प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत किया और अपने भाषण में महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि अमेरिकियों और भारतीय दोनों का मकसद एक है, दोनों देशों के बीच साझेदारी बढ़ाने का।

US में भी PM Modi ने पेश की स्वच्छता अभियान की मिसाल, कुछ ऐसा कर सब को चौंकाया

ऐसे बने मिसाल, उठाया गिरा हुआ फूल
ह्यूस्टन के जॉर्ज बुश अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करने के दौरान उन्हें यहां फूलों का एक गुलदस्ता दिया गया, जिसमें से एक फूल नीचे गिर गया और मोदी ने सभी को चौंकाते हुए इसे खुद उठाया। एक अमरीकी प्रतिनिधि मंडल ने उनका स्वागत फूलों के गुलदस्ते से किया था। इसी दौरान एक फूल गुलदस्ते से गिर गया। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.