Sunday, Sep 19, 2021
-->
1152 students challenged the 12th exam result formula in the supreme court kmbsnt

12वीं के मूल्यांकन फार्मूले को सुप्रीम कोर्ट में 1152 छात्रों ने दी चुनौती

  • Updated on 6/21/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं के लिए सीबीएसई के जिस फार्मूले को सुप्रीम कोर्ट ने हरी झंडी दी है, उसी फार्मूले को 1152 छात्रों ने संयुक्त याचिका दायर कर चुनौती दी है। इन छात्रों ने याचिका में इस फार्मूले पर सवाल उठाते हुए कुछ सुझाव भी दिए हैं।

वकील अभिषेक चौधरी व मनु जेटली के जरिए याचिका दायर करने वाले 1152 छात्रों में कंपार्टमेंट, पिछले कई सालों से पास होने की उम्मीद में परीक्षा देने वाले, पत्राचार से 12वीं करने वाले, ड्रॉपआउट, प्राइवेट छात्रों ने अपने लिए भी नीति बनाने की मांग की है।

CBSE Board ने सुप्रीम कोर्ट में बताया 12वीं का Evaluation Criteria, ऐसे मिलेंगे नंबर

कोविड सुरक्षा के मुद्दे पर भी उठाए सवाल 
इन सभी वर्गों के तहत परीक्षा देने वाले छात्रों, अभिभावकों, शिक्षकों आदि की स्वास्थ्य सुरक्षा सहित सभी जरूरी इंतजाम करने के मुद्दे पर भी याचिका में सवाल उठाए गए हैं। छात्रों ने प्राइवेट, कंपार्टमेंट छात्रों के लिए आयोजित की जाने वाली परीक्षा को फिजिकल मोड में रद्द करने की मांग करते हुए कहा है कि उनके लिए भी रेगुलर छात्रों की तरह कोई मूल्यांकन नीति अपनाई जाए। जिससे उनका तय समय में मूल्यांकन किया जाए।

CBSE 12th Result: 15 अगस्त से पहले घोषित हो जाएगा परीक्षा परिणाम

'हमसे भी रेगुलर छात्रों की तरह ही व्यवहार किया जाए'
छात्रों की इस याचिका पर सुप्रीम कोर्ट आज यानी सोमवार को सुनवाई कर सकता है। इसके अलावा छात्रों ने कोर्ट से कहा कि अगर वह मूल्यांकन नीति के जरिए घोषित किए गए रिजल्ट से संतुष्ट ना हो तो उन्हें भी रिजल्ट का सुधार करने का एक मौका मिलना चाहिए। याचिका में कहा गया है कि हमसे भी रेगुलर छात्रों की तरह ही व्यवहार किया जाए। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.