Friday, Jun 09, 2023
-->
122 students committed suicide in iits iims etc during 2014 21 says dharmendra pradhan rkdsnt

धर्मेन्द्र प्रधान ने बताया- IIT, IIM आदि में 2014-21 के दौरान 122 छात्रों ने की आत्महत्या

  • Updated on 12/20/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सरकार ने सोमवार को लोकसभा को बताया कि आईआईटी, आईआईएम, केंद्रीय विश्वविद्यालयों, आईईएससी एवं अन्य उच्चतर शिक्षण संस्थानों में वर्ष 2014 से 2021 के दौरान 122 छात्रों ने आत्महत्या की। लोकसभा में ए के पी चिनराज के प्रश्न के लिखित उत्तर में शिक्षा मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने यह जानकारी दी। प्रधान ने बताया कि वर्ष 2014 से 2021 के दौरान इन उच्चतर शैक्षणिक संस्थानों में 122 छात्रों ने आत्महत्या की जिनमें से आनुसूचित जाति वर्ग से 24 छात्र, अनुसूचित जनजाति वर्ग से 3 छात्र, अन्य पिछड़ा वर्ग से 41 छात्र तथा अल्पसंख्यक वर्ग से तीन छात्र शामिल हैं । 

निर्वाचन विधि (संशोधन) विधेयक से वोटरों की निजता से होगा समझौता: तृणमूल कांग्रेस 

 

इस अवधि में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) में 34 छात्रों, भारतीय प्रबंध संस्थान (आईईएम) में 5 छात्र, भारतीय विज्ञान संस्थान (आईईएससी) एवं भारतीय विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान में 9 छात्र, केंद्रीय विश्वविद्यालयों में 37 छात्र तथा भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान में 4 छात्र, राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थानों में 30 छात्रों द्वारा आत्महत्या की घटनाएं सामने आई हैं ।  

शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति का दावा - स्वर्ण मंदिर में बेअदबी की कोशिश के पीछे बड़ी साजिश

प्रधान ने बताया कि छात्रों का उत्पीडऩ एवं भेदभाव संबंधी घटनाओं को रोकने के लिए भारत सरकार और विश्विद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) द्वारा कई पहल की गई हैं। उन्होंने कहा कि छात्रों के हितों की रक्षा के लिए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (छात्रों की शिकायत का निवारण) विनियम, 2019 बनाया है। 

ओमीक्रोन के खतरे के बीच केजरीवाल ने कहा- कोविड के सभी मामलों में होगी जीनोम सीक्वेंसिंग

शिक्षा मंत्री ने कहा कि इसके अतिरिक्त, मंत्रालय ने शैक्षणिक तनाव को कम करने हेतु छात्रों के लिए उनके अनुकूल पठन पाठन, क्षेत्रीय भाषाओं में तकनीक शिक्षा की शुरूआत जैसे कई कदम उठाए हैं।    उन्होंने कहा कि मनोदर्पण नाम से भारत सरकार की पहल के अंतर्गत कोविड महामारी के दौरान छात्रों, शिक्षकों एवं परिवारों के मानसिक और भावनात्मक कल्याण हेतु मनोवैज्ञानिक सहायोग प्रदान करने के लिये विस्तृत श्रृंखला शुरू की गई।  

वोटर आईडी, लिस्ट को Aadhar से जोड़ने समेत चुनाव सुधार संबंधी बिल को मंजूरी

comments

.
.
.
.
.