Sunday, Jan 23, 2022
-->
1680-found-corona-positive-including-former-mla-9179-active-patients

पूर्व विधायक समेत 1680 मिले कोरोना पॉजिटिव, 9179 सक्रिय मरीज  

  • Updated on 1/13/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। जिले में कोरोना संक्रमण का फैलाव तेजी से बढ़ रहा है। वीरवार को बसपा के पूर्व विधायक समेत 1680 कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई है। जबकि 163 मरीजों ने कोरोना को मात दी है। कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से वृद्धि हो रही है। बीते बुधवार को 1581 मरीज सामने आए थे। जबकि मंगलवार को 1679 मरीज मिले थे। बुधवार को मरीजों की संख्या कम होने पर स्वास्थ्य विभाग ने भी राहत की सांस ली थी।

लेकिन वीरवार को एक बार फिर से कोरोना मरीजों की संख्या अधिक  रही। वहीं, जिले के कोविड अस्पतालों में मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है। वर्तमान में 18 कोविड अस्पतालों में 141 मरीजों का इलाज चल रहा है। हालांकि विभाग के आंकड़ों अनुसार केवल 31 मरीज भर्ती है। जबकि अन्य मरीज दूसरे शहरों व प्रदेशों से आकर भर्ती हुए है। इसमें से 17 मरीज आईसीयू में भर्ती है। कोरोना संक्रमण दर भी पिछले 24 घंटे में 15.24 प्रतिशत पर पहुंच गई। 

141 मरीजों का अस्पताल में चल रहा इलाज 
कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढऩे के साथ ही होम आइसोलेशन व अस्पतालों में भर्ती हो रहे है। तीसरी लहर के दौरान जिले में अब तक 9489 लोग कोरोना का शिकार हो चुके हैं। इनमें से 9179 मरीजों का अभी भी उपचार चल रहा है और विभाग के अनुसार 31 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं। जबकि दो सरकारी व 16 निजी कोविड अस्पतालों में 141 मरीज भर्ती है। वहीं, अन्य मरीजों को लेकर विभाग का कहना है कि ये मरीज अन्य जिलों व प्रदेश से आकर भर्ती हुए है।

सूत्रों की मानें तो इन मरीजों को भर्ती करने के लिए विभागीय अनुमति नहीं ली जा रही है। इनमें 50 मरीज वैशाली एवं कौशांबी के अस्पताल में भर्ती है। सरकारी स्तर पर कोविड लेवल-3 संतोष अस्पताल में 20 मरीज भर्ती हैं। लेवल-2 ईएसआईसी अस्पताल में दो मरीज भर्ती हैं। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. आरके गुप्ता का कहना है कि निजी अस्पतालों से रिपोर्ट मांगी गई है कि उनके यहां जो मरीज भर्ती हैं वे कहां के रहने वाले हैं और उनकी स्थिति क्या है।

सबसे अधिक युवा वर्ग हो रहा पॉजिटिव  
तीसरी लहर में अब तक सबसे अधिक 30 से 40 वर्ष वाला युवा वर्ग है। जनवरी से अब तक 3200 से ज्यादा लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में करीब 700 लोग शामिल है। अधिकारियों की मानें तो 30 से 40 आयु वर्ग के लोग कामकाजी होते हैं और नौकरी पेशे के चलते उन्हें अन्य जिलों में भी जाना पड़ता है। वहीं, कोरोना की तीसरी लहर में संक्रमित होने वाले बच्चों का प्रतिशत 10 तक पहुंच गया है। जो दूसरी लहर में 7 प्रतिशत बच्चे ही संक्रमण की चपेट में आए थे।

पूर्व विधायक हुए कोरोना पॉजिटिव 
कोरोना की चपेट में बसपा के पूर्व विधायक सुरेश बंसल भी आ गए। जिसके बाद उन्हें कौशांबी स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां आईसीयू में उनका उपचार चल रहा है। जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य संबंधी परेशानी होने पर उन्होंने कोविड जांच कराई थी, जो वीरवार को पॉजिटिव आई। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद वह एक निजी अस्पताल में भर्ती हो गए है। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.