Tuesday, Oct 26, 2021
-->
2 new corona infected found amid vaccination campaign

वैक्सीनेशन महाअभियान के बीच मिले 2 नए कोरोना संक्रमित

  • Updated on 9/17/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। दिल्ली से सटे गाजियाबाद में आयोजित 5वें मेगा टीकाकरण के बीच शुक्रवार को कोरोना के 2 व डेंगू के 15 मरीजों की पुष्टि हुई। शुक्रवार को हुए मेगा टीकाकरण में 2 बजे तक करीब 45 हजार लोगों ने वैक्सीन लगवाई। वैक्सीन लगवाने के लिए केन्द्रों पर सुबह से ही भीड़ जुटने लगी। अस्पताल व स्वास्थ्य केंद्रों को मिलाकर 170 जगहों पर कोरोना की वैक्सीन लगाई जा रही थी। ऐसे में केंद्रों पर सुबह दस बजे से ही लोग आने शुरू हो गए थे। जिन सोसाइटी या निजी अस्पतालों में शिविर लगाए गए थे, वहां भी काफी संख्या में लोग पहुंचे। इस दौरान कुछ केंद्रों पर धक्का-मुक्कि और मामूली विवाद भी देखने को मिले। 

कहीं इंतजार तो कहीं धक्का मुक्की 
वैक्सीन लगवाने के लिए कहीं लोगों को घंटो इंतजार करना पड़ा तो कहीं पर हालात ऐसे थे कि सोशल डिस्टेसिंग की धज्जियां जमकर उड़ाई गईं। संजयनगर स्थित जिला संयुक्त अस्पताल में वैक्सीन के लिए लाभार्थियो को दो घंटे से ज्यादा का इंतजार करना पड़ा रहा। कुछ लोग बिना कतार के ही वैक्सीन लगाने के लिए पहुंच रहे थे, जिसके बाद मामूली विवाद भी हो गया। दोपहर 12 बजे तक 100 से ज्यादा लोगों की कतार लग गई थी। एक लाभार्थी को दो घंटे का समय लग रहा था। वहीं संजयगनर जागृति विहार में स्थित नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर सुबह ही टीकाकरण शुरू हो गया था। सुबह 11 बजे के बाद कोविन पोर्टल का सर्वर धीरे से काम करने लगा, जिस कारण लोगों का पंजीकरण नहीं हो रहा था। इंदिरापुरम के वैभवखंड स्थित लोटस पॉन्ड सोसाइटी में कुल डेढ़ हजार लोगों को वैक्सीन लगाया गया। भीड़ ज्यादा होने की वजह से सोसाइटी के गार्ड सहित आरडब्ल्यूए सदस्य लोगों को कोरोना गाइडलाइन का पालन कराते रहे। हालांकि भीड़ ज्यादा होने की वजह से कोरोना गाइडलाइन का पालन नही हो सका। यही हाल वसुंधरा सेक्टर-4बी में लगे वैक्सीनेशन शिविर में रहा। 

2 लोगों में कोरोना और 12 में डेंगू की पुष्टि 
टीकाकारण महाअभियान के बीच जिले में शुक्रवार को कोरोना संक्रमण को दो और डेंगू के 12 मरीज मिले। कोरोना सक्रंमित दोनों व्यक्ति एक ही परिवार के हैं और हाल ही में त्रिपुरा घूमकर वापस लौटे हैं। जानकारी के मुताबिक विजय नगर में रहने वाले एक ही परिवार के महिला और पुरुष कुछ दिन पहले त्रिपुरा घूमने गए थे। वहां से वापस लौटने पर दोनों में लक्षण आने लगे। प्राईवेट लैब में जाच के बाद कोरोना की पुष्टि हुई। जानकारी होने पर स्वास्थ्य विभाग की टीमों को सैनेटाइजेशन के लिए मौके पर भेजा गया था। फिलहाल दोनों को घर पर ही आइसोलेट किया गया है। फिलहाल जिले में 5 संक्रमितों का विभिन्न अस्पतालों और होम आइसोलेशन में उपचार चल रहा है। इसके अलावा जिले में डेंगू के 12 ओर मरीज मिले है। इसमे से 11 मरीज अस्पताल में भर्ती है। सरकारी अस्पताल में 7 मरीजों का इलाज चल रहा है। जिसके बाद मरीजो की संख्या 150 तक पहुंच गई है। हालांकि शुक्रवार को मलेरिया व स्क्रब टाइफस का कोई मरीज सामने नहीं आया है। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.