Monday, Aug 08, 2022
-->
22 teachers honored with CBSE Education Awards 2020-21

सीबीएसई शिक्षा पुरस्कार 2020-21 से 22 शिक्षक हुए सम्मानित

  • Updated on 9/21/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। शिक्षक पारंपरिक शिक्षण पद्धतियों से हटकर शिक्षण के अभिनव तरीकों की ओर उन्मुख हों जहां छात्रों की अंतर्निहित रचनात्मकता और रुचि का उत्कृष्ठता के स्तर तक पोषण किया जाए। इससे न केवल छात्रों को उनकी रुचि या प्रतिभा के क्षेत्र में व्यवसाय करने का लाभ मिलेगा बल्कि देश को सभी विविध क्षेत्रों में विशेषज्ञ पेशेवरों का एक समूह बनाने में भी मदद मिलेगी। यह बात मंगलवार को सीबीएसई शिक्षक पुरस्कार 2020-21 समारोह की मुख्य अतिथि केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री अन्नपूर्णा देवी ने देशभर से चुने गए 22 शिक्षकों को पुरस्कृत करते समय कही।

डीयू में ऑफलाइन क्लास शुरू होने का नोटिस निकला फर्जी

हम अपनी सर्वोत्तम पद्धतियों को साझा करें ः मनोज आहूजा 
इस अवसर पर सीबीएसई चेयरमैन मनोज आहूजा ने कहा कि बोर्ड का विश्वास है कि उत्कृष्ठता कुछ लोगों का विशेषाधिकार नहीं है प्रत्येक शिक्षार्थी में हुनर और अंतर्निहित क्षमता होती है। हर बच्चा अद्वितीय है। इसलिए हम विचारशीलता, देखभाल, उद्यम और प्रेरणादायक मानसिकता के साथ आगे बढ़ें। देश में मौजूदा कोविड स्थिति के मद्देनजर आइए हम अपनी सर्वोत्तम पद्धतियों को साझा करें और दुनिया भर से सर्वोत्तम पद्धतियां सीखें और अपनी आवश्यकता और वातावरण के अनुसार उन्हें सही संदर्भ में अपनाएं।

114 शहरों में बने 248 परीक्षा केंद्रों पर जेएनयूईई हुई शुरू

हर शिक्षक को पुरस्कार स्वरूप 50 हजार रुपए और मेरिट प्रमाणपत्र दिया गया
पुरस्कार समारोह में स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता सचिव अनीता करवल, सीबीएसई सचिव अनुराग त्रिपाठी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे। 22 पुरस्कार प्राप्त कर्ता शिक्षकों में प्राथमिक, मिडिल, माध्यमिक और वरिष्ठ माध्यमिक स्तर के शिक्षक हैं जिन्होंने न केवल अपनी नव प्रवर्तनकारी पद्धतियों के साथ अत्यधिक योगदान दिया है। प्रत्येक पुरस्कार में एक मेरिट प्रमाणपत्र, एक शॉल और 50000 रुपए दिए गए हैं।

सीबीएसई देश के 733 जिलों में करेगा राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण

22 शिक्षकों में 8 दिल्ली से चुने गए
देशभर से चुने गए कुल 22 शिक्षकों से सीबीएसई शिक्षक पुरस्कार के लिए 8 राजधानी दिल्ली से चुने गए। कुल चुने हुए शिक्षक इस प्रकार हैं :- ममता अमरपुरी-दिल्ली, मोनिका सचदेवा-दिल्ली, मोनिका सिंधवानी-दिल्ली, पद्मा श्रीनिवासन-दिल्ली, रितिका आनंद-दिल्ली, डॉ. शिक्षा-दिल्ली, दिव्या भाटिया-दिल्ली, चांदनी अग्रवाल-दिल्ली, डॉ. सुचिता राउत-मध्य प्रदेश, मुनिद्र कुमार मजूमदार-असम, प्रवीन कुमार मिश्रा-गुजरात, सिताकांथा पति-भुवनेश्वर, विक्रम सिंह यदुवंशी-ओमान, माधवी गोस्वामी-गाजियाबाद यूपी, मोनिका चावला-चंडीगढ़, रीना राजपाल-दिल्ली, स्मरानिका पटनायक ओडिसा, शर्मिला राहेजा-गाजियाबाद यूपी, सुखप्रीत कौर-अमृतसर, सुनीता सिंह-मेरठ यूपी, सुष्मिता कानूनगो-इलाहाबाद यूपी और हरप्रीत कौर-पंजाब।

comments

.
.
.
.
.