Tuesday, Aug 04, 2020

Live Updates: Unlock 3- Day 4

Last Updated: Mon Aug 03 2020 10:27 PM

corona virus

Total Cases

1,852,156

Recovered

1,229,171

Deaths

38,969

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA450,196
  • TAMIL NADU263,222
  • ANDHRA PRADESH166,586
  • KARNATAKA139,571
  • NEW DELHI138,482
  • UTTAR PRADESH97,362
  • WEST BENGAL78,232
  • TELANGANA67,660
  • GUJARAT64,684
  • BIHAR59,567
  • RAJASTHAN43,804
  • ASSAM41,727
  • HARYANA37,173
  • ODISHA36,297
  • MADHYA PRADESH34,285
  • KERALA26,873
  • JAMMU & KASHMIR22,006
  • PUNJAB18,527
  • JHARKHAND12,882
  • CHHATTISGARH9,800
  • UTTARAKHAND7,800
  • GOA6,816
  • TRIPURA5,389
  • PUDUCHERRY3,982
  • MANIPUR2,920
  • HIMACHAL PRADESH2,725
  • NAGALAND2,129
  • ARUNACHAL PRADESH1,674
  • LADAKH1,485
  • DADRA AND NAGAR HAVELI1,284
  • CHANDIGARH1,160
  • MEGHALAYA902
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS830
  • DAMAN AND DIU694
  • SIKKIM688
  • MIZORAM483
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
3 steps to known get coronavirus test  pragnt

इन 3 आसान तरीकों से पता करें कि आप कोरोना संक्रमित हैं या नहीं

  • Updated on 5/20/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना वायरस (Coronavirus) पूरे भारत (India) में अपना कहर बरपा रहा है। देशवासियों में इस वायरस का इतना खौफ हो गया है कि खांसी और बुखार होने पर लोग खुद को संक्रमित मान रहे हैं। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि बदलते मौसम के कारण भी आपको खांसी और बुखार हो सकता है इसलिए अगर आपको बुखार आए तो आप बिल्कुल भी ना डरे। ऐसे वक्त के लिए सरकार ने कुछ तरीके बताए हैं जिससे आप अपने डर  को दूर कर सकते हैं।

चीन के इस दुर्लभ जीव का मांस है 1 लाख रु. किलो, बढ़ती डिमांड के कारण विलुप्त होने को है ये जीव

पहला तरीका
अगर आपको हल्का बुखार और खांसी है तो आप सबसे पहले सरकार द्वारा जारी किए गए नंबर पर कॉल करके अपनी परेशनी बताएं। इसके लिए सरकार ने 1075 और 011 23978046 दो हेल्प लाइन नंबर जारी किए हैं। चलिए आपको बता दें कि 1075 पर कॉल करके क्या करना है।

आईआईटी दिल्ली ने विकसित की कई बार इस्तेमाल योग्य पीपीई किट

जब आप इस हेल्पलाइन नंबर 1075 पर कॉल करेंगे तो सामने वाला व्यक्ति आपसे आपके लक्षणों के बारे में पुछेगा। आपकी पर्सलन डिटेल जैसे कि आप किस राज्य से हैं किस जोन से हैं। आपके लक्षण के बारे में जानने के बाद वो व्यक्ति आपको आपके जिले के नोडल अधिकारी का नंबर देगा, जिस पर आपको संपर्क करना होगा। संपर्क करने के बाद आपको बताया जाएगा कि आपको किस लैब में जाकर अपना टेस्ट कराना है। 

दुनिया के इस देश में खाया जाता है चमगादड़ का मांस, कोरोना के बाद भी यहां नहीं रुकी बिक्री

दूसरा तरीका
अगर आपको कोरोना के लक्षण दिख रहे हैं तो आप सरकारी के साथ-साथ प्राइवेट लैब में भी जाकर अपना टेस्ट करा सकते हैं। अगर आप किसी प्राइवेट लैब में अपना टेस्ट करना चाहते हैं तो आपके पास डॉक्टर की टेस्ट स्लिप होनी चाहिए। जिसे दिखाकर आप टेस्ट करा सकते हैं। अगर आप किसी प्राइवेट लैब में टेस्ट कराते हैं तो आपको 4500 रुपए देने होंगे।

मायावती का आरोप- प्रवासी मजदूरों के नाम पर घिनौनी राजनीति कर रही BJP- कांग्रेस

तीसरा तरीका
तीसरे तरीके की बात करें तो ये तरीका है आरोग्य सेतु ऐप का। जहां पर अपने हेल्थ को लेकर आपकी सारी शंका दूर हो जाएगी। ये तरीका सबसे आसान है। इस ऐप में आपसे कुछ आसान सवाल पूछे जाएंगे जिसे बताकर आप जान सकते हैं कि आप कोरोना संक्रमित हैं या नहीं।

इंसानी जींस बताते हैं कैसे लड़ेगा कोरोना वायरस से आपका शरीर- शोध

ICMR ने टेस्ट को लेकर किए ये बदलाव
देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मरीजों के कारण आईसीएमआर ने टेस्ट को लेकर सोमवार को कुछ बड़े बदलाव किए हैं। 

  • जिस भी व्यक्ति को  38◦C से अधिक बुखार होगा उसका टेस्ट किया जाएगा।
  • जिसे खांसी के साथ एक्यूट रेस्पिरेटरी इन्फेक्शन होगा, उसका टेस्ट किया जाएगा। 
  • कोरोना वॉरियर्स या ऐसा कहें कि फ्रंटलाइट वर्कर जिनमें कोरोना के लक्षण हो।
  • सभी प्रवासी मजदूर जो दूसरे राज्यों से वापिस आए हैं उनका 7 दिन के अंदर टेस्ट होगा।
  • अस्पताल में भर्ती सभी मरीज जिनमें थोड़ा भी आईएलआई लक्षण दिखाई दे, उसका टेस्ट होगा।

कोरोना के मरीजों में दिखा नया लक्षण, सुनाई देती हैं अजीब आवाजें और होता है मतिभ्रम!

डिलीवरी वाले मरीज
आईसीएमआर ने रणनीति बनाते हुए अस्पतालों को कहा कि इमरजेंसी और डिलीवरी वाले मरीजों को सबसे पहले प्राथमिकता दें। अगर उनमें जरा सा भी लक्षण दिखे तो उनके सैंपल की जांच की जाए और उनके इलाज में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

बीते मंगलवार को ही आईसीएमआर ने बताया कि अब तक 24 लाख 4 हजार 267 लोगों के कोरोना टेस्ट हो चुके हैं। आईसीएमआर का कहना है कि हमने टेस्टिंग की स्पीड बढ़ाई है। अब तक 522 लैब में टेस्टिंग चल रही हैं। जिसमें से 371 सरकारी लैब हैं और 151 प्राइवेट लैब हैं।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Coronavirus की दवा हो सकती है अश्वगंधा, IIT दिल्ली ने किया शोध

इंसानी जींस बताते हैं कैसे लड़ेगा कोरोना वायरस से आपका शरीर- शोध

कोरोना के मरीजों में दिखा नया लक्षण, सुनाई देती हैं अजीब आवाजें और होता है मतिभ्रम!

विशेषज्ञों का दावा- कोरोना वायरस से बचने के लिए माउथवॉश करना हो सकता है कारगार

कोरोना से जुड़े 11 सवाल, जिनके जवाब दुनियाभर के वैज्ञानिक, विशेषज्ञ और जानकार नहीं दे पाए हैं!

कोरोना वायरस को लेकर चीन ने दी अपनी सफाई, दुनिया को बताए ये 6 फैक्ट

दुनिया के इस देश में खाया जाता है चमगादड़ का मांस, कोरोना के बाद भी यहां नहीं रुकी बिक्री

बंदरों पर शोध कर वैज्ञानिकों ने समझा महामारी में क्यों जरुरी है सोशल डिस्टेंसिंग का फंडा

कोरोना को लेकर दुनिया को डराने में लगा है WHO! जानें कब- कब, क्या दी जानकारी

'लोकल' पर 'वोकल': दवाओं के लिए खत्म करनी होगी ड्रैगन पर निर्भरता, चौंकाने वाले हैं ये आंकड़े

comments

.
.
.
.
.