Thursday, May 13, 2021
-->
4 congress-ruled states accused - center captured vaccines musrnt

कांग्रेस शासित 4 राज्यों ने कहा- 1 मई से नहीं शुरू कर पाएंगे वैक्सीनेशन, टीकों की है कमी

  • Updated on 4/26/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों द्वारा शासित 4 राज्यों ने केंद्र सरकार पर टीका निर्माताओं से मिले टीकों के स्टॉक पर कब्जा करने का आरोप लगाते हुए इस बात पर संदेह जताया कि वे 1 मई से 18-45 आयु वर्ग के लोगों के टीकाकरण की शुरूआत कर पाएंगे।

पंजाब, छत्तीसगढ़, राजस्थान और झारखंड (कांग्रेस-जे.एम.एम. गठबंधन द्वारा शासित राज्य) के स्वास्थ्य मंत्रियों ने संयुक्त वीडियो प्रैस कांफ्रैंस करते हुए पूछा कि जब केंद्र पहले ही स्टॉक पर कब्जा कर चुका है और उनके पास खुराकें उपलब्ध नहीं तो वे सभी वयस्कों को टीके कैसे लगाएंगे?  

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा- हमारे साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। केंद्र सरकार को टीके और आवश्यक जीवन रक्षक दवाएं प्रदान करनी चाहिएं। हमारे पास बहुत कम टीके बचे हैं। केंद्र हमें टीकों का आबंटन करे। राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि सीरम इंस्टीच्यूट ने कहा है कि वह 15 मई तक टीके उपलब्ध कराने की स्थिति में नहीं है तो हम 18 से 45 साल के लोगों को टीके कैसे लगाएंगे। 

राजस्थान, महाराष्ट्र और गुजरात में सबको मुफ्त लगेगी कोरोना वैक्सीन
 

राजस्थान सरकार ने केंद्र सरकार से एक कदम आगे बढ़कर 18 से 45 वर्ष तक की आयु के युवाओं को फ्री वैक्सीनेशन देने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने ट्विटर हैंडल पर यह जानकारी देते हुए बताया कि इस फैसले से राज्य के कोष से करीब 3000 करोड़ रुपए की धनराशि खर्च होगी।

वहीं महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और राकांपा के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक ने कहा कि सभी महाराष्ट्रवासियों को राज्य सरकार मुफ्त में कोरोना की वैक्सीन लगवाएगी। उधर गुजरात सरकार भी 18 से 45 साल की उम्र तक के लोगों को  नि:शुल्क कोविड-19 के टीके लगवाएगी।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.