Monday, Sep 26, 2022
-->
4th-edition-of-pm-uphaar-begins-e-auction-with-1200-mementos

1200 स्मृति चिन्हों के साथ पीएम उपहार की चौथे संस्करण की ई-नीलामी हुई शुरू 

  • Updated on 9/16/2022

नई दिल्ली। अनामिका सिंह। बीते 3 सालों की तरह ही इस साल भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिले स्मृति चिन्हों की ई-नीलामी के चौथे संस्करण की प्रक्रिया प्रारंभ की जा रही है। प्रधानमंत्री को मिले पुरस्कारों को खरीदने के इच्छुक 17 सितम्बर से 2 अक्तूबर 2022 तक  https://pmmementos.gov.in पर जाकर ई-नीलामी प्रक्रिया में भाग ले सकते हैं। नीलामी में उत्कृष्ट पेंटिंग, मूर्तियां, हस्तशिल्प और लोककृतियों के साथ ही इस साल विशेष आकर्षण के तौर पर कॉमनवेल्थ गेम्स 2022, डेफलिम्पिक्स 2022 और थॉमस कप चैंपियशिप 2022 में टीम इंडिया की ओर से शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाडिय़ों की वस्तुओं को शामिल किया गया है।

वेबसाइट पर देखी जा सकेंगी वस्तुएं
मालूम हो कि केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय द्वारा नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट (एनजीएमए) में इस प्रदर्शनी के चौथे संस्करण को आयोजित किया जा रहा है। साल 2019 में पहली बार इस ई-नीलामी प्रक्रिया को प्रारंभ किया गया था। उस समय कुल 1805 उपहारों को नीलामी के लिए रखा गया था, साल 2020 में 2772 व साल 2021 में 1348 उपहारों को नीलामी में रखा गया था। इस साल लगभग 1200 स्मृति चिन्ह ई-नीलामी के लिए रखे गए हैं। इन वस्तुओं को वेबसाइट पर भी देखा जा सकता है। 
पेंटेड स्टॉर्क को दिल्ली चिडिय़ाघर में देखकर खुश हो रहे हैं पर्यटक

25 खेल से जुड़े स्मृति चिन्ह बनाते हैं ई-नीलामी को यादगार : रेड्डी
केंद्रीय संस्कृति व पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी ने इस अवसर पर बताया कि  ई-नीलामी को यादगार बनाने का काम इस संस्करण में 25 खेल से जुड़े स्मृति चिन्ह हैं। ये उन खिलाडिय़ों के हैं जिन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022, डेफलिम्पिक्स 2022 और थॉमस कप चैंपियनशिप 2022 में टीम इंडिया के लिए शानदार प्रदर्शन किया है। इसके अलावा श्रीराम मंदिर और काशी विश्वनाथ मंदिर की प्रतिकृतियां भी आकर्षण का केंद्र हैं। इस मौके पर संस्कृति और संसदीय कार्य राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल और संस्कृति व विदेश राज्यमंत्री मीनाक्षी लेखी भी मौजूद रहीं। 

खिलाडिय़ों के सामानों की बीडि़ंग सबसे ऊंची 
बता दें कि ई-नीलामी में रखे गए सामान में खिलाडिय़ों की वस्तुओं के सबसे ऊंचे दाम रखे गए हैं। इनमें एक टी-शर्ट जिस पर सभी महिला-पुरूष कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के खिलाडियों के सिग्नेचर हैं उसे 5 लाख रूपए में बेचा जा रहा है। ग्लब्स, बैडमिंटन रैकेट व अन्य कई खिलाडिय़ों की टी-शर्ट 5 लाख में हैं। वहीं बात अगर मूर्तियों की करें तो नेताजी सुभाषचंद्र बोस की काले पत्थर से बनी मूर्ति व नेशनल पुलिस मेमोरियल का मॉडल भी 5 लाख रुपए की शुरूआती कीमत पर बेचने के लिए रखा गया है। जबकि कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में जूडो फेडरेशन लॉयन मासकोट जिसमें खिलाडियों के सिग्नेचर है उसकी कीमत 3 लाख रूपए रखी गई है। 
दिल्ली के ऐतिहासिक अखाड़े, जहां युवा पहलवान सीख रहे हैं दांवपेंच

श्रवणबाधित लोगों के लिए ब्रेल लिपि में पुस्तिका भी उपलब्ध होगी
ई-नीलामी की प्रदर्शनी को देखने के लिए आने वाली आम जनता के लिए इस दौरान गाइडेड टूर की व्यवस्था भी की गई है। साथ ही श्रवणबाधित लोगों के लिए सांकेतिक भाषा में पर्यटन की व्यवस्था भी की गई है। इसी तरह दृष्टिबाधित लोगों के लिए ब्रेल लिपि में पुस्तिकाओं को भी उपलब्ध करवाया जाएगा। प्रदर्शन क्षेत्र में 17 सितंबर से 2 अक्तूबर 2022 तक आम लोग नि:शुल्क आकर प्रदर्शनी को देख पाएंगे। नीलामी से जमा धनराशि राष्ट्रीय नदी गंगा के संरक्षण और पुनरूद्धार की प्रमुख परियोजनाओं में नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत दी जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.