Sunday, Apr 18, 2021
-->
57 countries join India to get the Corona vaccine patent free in the WTO PRSHNT

WTO में कोरोना वैक्सीन को पेटेंट से मुक्त कराने में जुटा भारत, 57 देशों ने दिया साथ

  • Updated on 3/6/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में एक ओर कोरोना का कहर फिर तेज हो रहा है वहीं दूसरी ओर कोरोना के खिलाफ तेजी से वैक्सीनेशन का काम भी जारी है। इसके अलावा भारत इन दिनों दुनिया को कोरोना वैक्सीन मुहैया कराने की मुहिम में जुटा है। इसके लिए  भारत कोरोना वैक्सीन को पेटेंट नियम से बाहर लाने की जी-तोड़ कोशिश कर रहा है। ऐसे में भारत ने हाल ही में विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) से कोरोना वैक्सीन को ट्रेड रिलेटेड आस्पेक्ट्स ऑफ इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी (ट्रिप्स) यानी व्यापार संबंधित बौद्धिक संपदा अधिकार से बाहर रखने की गुजारिश की है, जिससे छोटे और सबसे कम विकसित देशों को आसानी से कम दाम पर वैक्सीन मिल सके।

ऐसे में दुनिया के 57 देश भारत का साथ दे रहे हैं जिसमें 35 देश सबसे कम विकसित है। वहीं अमेरिका और यूरोप के कई विकसित देश भारत के प्रस्ताव के पक्ष में नहीं है। 

पैसे न देने पर निजी अस्पताल ने बिना पेट में टांका लगाए 3 साल की बच्ची को किया बाहर, हुई मौत

ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन की 2.5 लाख डोज
इटली ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन की 2.5 लाख डोज के ऑस्ट्रेलिया निर्यात पर रोक लगा दी और यूरोपीय संघ ने भी इटली के इस कदम का समर्थन किया है। विशेषज्ञों का कहना है कि विकसित देश वैक्सीन को लेकर जो रवैये दिखा रहे है ऐसे में इसे ट्रिप्स से बाहर लाना अत्यधिक आवश्यक हो गया है। इनका कहना है कि वैक्सीन को ट्रिप्स से बाहर रखा जाता है तो भारत इसका सबसे बड़ा निर्यातक और आपूर्तिकर्ता देश बन जाएगा। 

UPA की सरकार में भी पड़ी थी अनुराग पर IT की Raid, बैंक अकाउंट किया था सील

महामारी से निपटने के लिए पूरी दुनिया में वैक्सीन
बता दें कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए पूरी दुनिया अब कोरोना वैक्सीन की तरफ देख रही है। जिन देशों ने कोरोना वैक्सीन बना ली है उनमें भारत भी शामिल हैं। सभी देश इस समय चाहते हैं कि वह अपने सभी नागरिकों को कोरोना की वैक्सीन लगा दें मगर इसके लिए कोरोना की वैक्सीन के दाम पर भी निर्भर करेगा। अभी तक भारत को इसमें सफलता मिली है मगर इस बार  दुनिया को हर सामान सस्ता देने वाला चीन पीछे रह गया है।  उसकी वैक्सीन की तुलना भारत से की जाए तो उसके रेट भारत से 9 गुना ज्यादा है।  

प. बंगालः 24 परगना में BJP समर्थकों पर बम से हमला, 6 कार्यकर्ता घायल

चीन की दुनिया में सबसे महंगी वैक्सीन
बता दें कीमत के हिसाब से भारत की वैक्सीन दुनिया में सबसे सस्ती और चीन की वैक्सीन दुनिया में सबसे महंगी है। इसके अलावा भारत सरकार सबसे कम समय में वैक्सीन बनाने वाली हैं। बता दें दुनिया में आर्थिक रुप से सम्पन्न सभी देश भी वैक्सीन के लिए भारत की तरफ देख रहे हैं। भारत में इस समय एक कोरोना वैक्सीन की डोज की कीमत 250 रुपए रखी गई है। जिसमे 150 रुपए वैक्सीन की कीमत 100 रुपए सर्विस चार्ज है। भारत के नागरिक किसी भी प्राइवेट अस्पताल में जाकर इसे लगवा सकते हैं। वहीं सरकारी अस्पतालों में यह मुफ्त में लगाई जा रही है।  

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.