Tuesday, Jan 28, 2020
70 lakh scam in gurudwara committee guru harkrishna public school

गुरुद्वारा कमेटी के स्कूल में 70 लाख का घोटाला, जाने किस पर लगा आरोप

  • Updated on 11/27/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (DSGMC) ने हरिकृष्ण पब्लिक स्कूल (Guru harkrishan public school) के पंजाबी बाग ब्रांच में 70 लाख रुपए के घोटाला होने का दावा किया है। साथ ही कहा है कि यह खेल कमेटी के पूर्व जनरल मैनेजर हरजीत सिंह सूबेदार (Harjit Singh Subedar) की धर्म पत्नी जतिंद्रपाल कौर व बैंक मुलाजिमों द्वारा मिलकर किया है। 

कमेटी का दावा, पूर्व जीएम सूबेदार की पत्नी ने किया खेल 
दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के लीगल सैल के चेयरमैन जगदीप सिंह काहलों, स्कूल के चेयरमैन सरबजीत सिंह विरक व मैनेजर मनजीत सिंह औलख ने एक संयुक्त प्रेस कान्फ्रेंस (Press conference) में दावा किया कि कमेटी के पूर्व अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके के कार्यकाल में यह घोटाला गुरु हरिकृष्ण पब्लिक स्कूल पंजाबी बाग में हुआ है। जीके के खास हरजीत सिंह की पत्नी जतिंद्रपाल कौर इसमें शामिल थीं। वह स्कूल में कार्यालय अधीक्षक थी। कमेटी ने दावा किया कि जतिंद्रपाल कौर ने स्कूल (School) की 70 लाख रुपए की राशि बैंक में जमा करवाने की बजाय बैंक मुलाजिमों की मिलीभगत से वाउचर पर बैंक की मोहर लगवा कर जमा दिखाई जाती रही, जबकि यह सारा पैसा वह हड़प कर गई। काहलों ने कहा कि बहुत ही हैरानी वाली बात है कि घोटाला उसी पुराने तरीके से किया गया जैसा कि दिल्ली कमेटी में 51 लाख रुपए की नकली रसीदें लगा कर किया गया था।
व्यापम घोटला: पुलिस भर्ती घोटाले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, 30 को दी 7-7 साल की सजा

बैंक मुलाजिमों के साथ मिलकर हुई गड़बड़ी : काहलों
काहलों ने बताया कि यह सारा खेल आडिट के दौरान सामने आया है। घोटाले से ऐसा लगता है कि पूर्व अध्यक्ष व उनके करीबियों ने मिल कर दिल्ली कमेटी व संस्थाओं को नुकसान पहुंचाई है। उन्होंने बताया कि जतिंद्रपाल कौर के खिलाफ स्कूल प्रबंधकों द्वारा पुलिस शिकायत पंजाबी बाग थाने में भी दर्ज करवाई गई है। अगली कार्रवाई पुलिस द्वारा की जायेगी और साथ ही जीएचपीएस सोसायटी को भी जतिंद्रपाल कौर के खिलाफ सख्त एक्शन लेने की अपील की है। 

JNU में सभी छात्रों को बढ़ी हुई फीस से राहत, जानें अब देना होगा कितना पैसा

मंजीत सिंह के हटने के बाद भी होता रहा खेल, जागो कराएगी एफआईआर 
गुरु हरिक्रिशन पब्लिक स्कूल पंजाबी बाग में वित्तीय वर्ष 2018-19 में कथित तौर पर 70 लाख के फंड गायब होने के मामले में जागो पार्टी दिल्ली पुलिस को शिकायत देंगी। पार्टी के प्रवक्ता गुरविंदर पाल सिंह ने बताया कि पुलिस को दी जाने वाली शिकायत में सभी आरोपियों का नाम लिखा जाएगा। इसमें दिल्ली कमेटी के अध्यक्ष तथा गुरु हरिकिशन स्कूल सोसायटी के चेयरमैन मनजिंदर सिंह सिरसा, स्कूल के चेयरमैन सर्वजीत सिंह विर्क,स्कूल के मैनेजर, प्रिंसिपल, अकाउंटेंट तथा पंजाब  एंड सिंध बैंक के कैशियर आदि को इस घोटाले का मुख्य आरोपी बनाया जाएगा।

PMC बैंक घोटाला: हवाईजहाज और याट को बेचकर बसुली जाएगी रकम, ईडी ने दी सहमति

स्कूल और बैंक कर्मचारीयों की मिलीभगत 
गुरविंदर ने बताया कि पंजाबी बाग स्कूल में नगद जमा होने वाली फीस को बैंक के कुछ कर्मचारीयों की मिलीभगत से स्कूल स्टाफ ने स्कूल सोसायटी के खाते में कथित तौर पर पूरा जमा नहीं करवाया है। जबकि रिकार्ड में पूरे पैसे जमा होते दिखाए गए, पर खाते में पैसे कम जमा हुए। दिल्ली कमेटी के द्वारा इस कथित घोटाले में पूर्व कमेटी अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके को घसीटने की जा रहीं कोशिशों की निंदा करते हुए गुरविंदर ने कहा कि जीके ने तो अक्टूबर 2018 में ही कमेटी के आधिकारिक कामकाज से अपने आपको अलग कर लिया था। जबकि यह घपला मार्च 2019 तक जारी रहा। स्कूल के आर्थिक प्रबंधन को देखने की प्राथमिक जिम्मेदारी स्कूल के चेयरमैन, मैनेजर,प्रिंसिपल व अकाउंटेंट की होती है। साथ ही कमेटी के स्थानीय सदस्य सिरसा की दखलअंदाजी इस स्कूल में शुरू से ही रही है। 

comments

.
.
.
.
.