Monday, Jun 27, 2022
-->
8 people including farmers died in lakhimpur kheri case minister son crushing rkdsnt

लखीमपुर खीरी कांड में किसानों समेत 8 लोगों की मौत, मंत्री के बेटे पर कुचलने का आरोप

  • Updated on 10/3/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। यूपी के लखीमपुर खीरी में रविवार को उस समय कोहराम मच गया, जब यहां बनवीर गांव में धरना दे रहे किसानों पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष मिश्र ने अपना कार चढ़ा दी। इस घटना के बाद हुई हिंसा में 8 लोगों की मौत हो गई। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे को लेकर किसानों के विरोध प्रदर्शन के दौरान रविवार को यहां भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई। यह घटना तिकोनिया कोतवाली क्षेत्र के तिकोनिया-बनबीरपुर मार्ग पर हुई। खबरों के मुताबिक दो एसयूवी वाहनों द्वारा कथित रूप से प्रदर्शनकारियों को टक्कर मारे जाने के बाद नाराज किसानों ने दो एसयूवी (स्पोट््र्स यूटिलिटी व्हीकल) में आग लगा दी। खीरी के जिलाधिकारी डॉ. अरविंद कुमार चौरसिया ने तिकोनिया में मीडियार्किमयों को बताया कि इस घटना में चार किसान और चार अन्य (एसयूवी सवार) मारे गए। इस बीच, मृतक किसानों की पहचान बहराइच जिले के नानपारा निवासी दलजीत सिंह व गुरविंदर सिंह तथा पलिया-खीरी के लवप्रीत सिंह और नछत्तर सिंह के रूप में हुई है। दो एसयूवी चालकों समेत चार अन्य की पहचान अभी नहीं हो पाई है। 

 

केशव प्रसाद मौर्य बोले - नए कृषि कानूनों का विरोध ‘चुनावी आंदोलन’ है


इस बीच किसान आंदोलन से जुड़े योगेंद्र यादव ने कहा कि लखीमपुर खीरी में प्रदर्शनकारियों को दो गाडिय़ों से कुचले जाने के विरोध में सोमवार को देशभर में किसान जिलाधिकारी कार्यालयों के बाहर धरना देंगे। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट््वीट कर कहा, कृषि कानूनों का शांतिपूर्ण विरोध कर रहे किसानों को भाजपा सरकार के गृह राज्य मंत्री के पुत्र द्वारा गाड़ी से रौंदना घोर अमानवीय क्रूर कृत्य है।’’ यादव ने इस घटना को लेकर एक ट््वीट में मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग की । उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘लखीमपुरी खीरी में भाजपाइयों द्वारा गाड़ी से रौंदे जाने की घटना में गंभीर रूप से घायल किसान नेता तेजिन्दर सिंह विर्क जी से अभी थोड़ी बात हो पाई, उनकी अति गंभीर स्थिति को देखते हुए सरकार उन्हें सर्वोत्तम इलाज उपलब्ध कराए। ’’    अखिलेश ने आगे लिखा, ‘‘बस एक मांग, मुख्यमंत्री इस्तीफा दें।’’ 

बसपा अध्यक्ष और राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने ट्वीट कर कहा, 'उप्र के जिला लखीमपुर खीरी में तीन कृषि कानूनों की वापसी की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों पर केन्द्रीय मंत्री के पुत्र द्वारा कथित तौर पर कई किसानों की गाड़ी से रौंद कर की गई हत्या अति-दु:खद। यह भाजपा सरकार की तानाशाही व क्रूरता को दर्शाती है जो कि इनका असली चेहरा भी है।’’ उन्होंने कहा, च्च्इस घटना के संबंध में भी पीड़ितों को सरकार से उचित न्याय मिलने की उम्मीद नहीं है। इसलिए माननीय सुप्रीम कोर्ट इस दु:खद घटना का स्वयं ही संज्ञान ले, बीएसपी की यह मांग। साथ ही, बीएसपी के स्थानीय प्रतिनिधिमंडल को भी घटनास्थल पर जाने का निर्देश।’’ भारतीय किसान यूनियन ने ट्वीट कर दावा किया, 'लखीमपुर खीरी में आंदोलन कर रहे किसानों को गृह राज्यमंत्री के बेटे ने गाड़ी से रौंदा, तीन किसानों की मौत, तेजेंद्र सिंह विर्क के भी घायल होने की सूचना है। राकेश टिकैत गाजीपुर से निकल रहे हैं।’’ 

 

भवानीपुर उपचुनाव में ममता 58,389 मतों से आगे, जश्न की तैयारी में TMC कार्यकर्ता 

मौर्य का हेलीकॉप्टर, जिस हेलीपैड पर लैंड करना था, वहां किसानों ने काले झंडे लेकर विरोध धरना शुरू कर दिया। इस दौरान कई भाजपा के कार्यकर्ता पहुंच गए और हंगामा तेज शुरू हो गया। इसी बीच अजय मिश्र के बेटे ने धरने पर बैठे किसानों पर कार चढ़ा दी। इसमें 2 किसानों की मौत हो गई, जबकि कुछ अन्य घायल हो गए। मिश्र का बेटा फिलहाल फरार है। 

इस घटना के बाद विपक्ष ने योगी सरकार को निशाने पर लेना ्शुरू कर दिया है। कांग्रेस, सपा, बसपा और आप ने इसे किसानों पर अत्याचार करार दिया है और सीएम योगी से इस्तीफा देने की मांग की है। उधर, किसान संगठनों ने सभी किसानों से लखीमपुर खीरी पहुंचने का आह्वान किया है, ताकि पीड़ित किसानों के लिए न्याय की मांग बुलंद की जा सके।  

पतंजलि के गुरुकुल की संन्यासिनी ने 5वीं मंजिल से कूद कर की खुदकुशी, उठे सवाल


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.