Tuesday, Jan 18, 2022
-->
80 percent attendance of students in schools complete arrangements to prevent corona KMBSNT

स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति हुई 80 फीसदी, कोरोना से बचाव के पूरे इंतजाम

  • Updated on 1/26/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राजधानी दिल्ली में 10वीं 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को देखते हुए 18 जनवरी से प्रैक्टिकल थ्योरी क्लासेस और बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी के लिए स्कूल (Delhi School) खोल दिए गए हैं। स्कूलों का कहना है कि 18 जनवरी से 25 जनवरी तक 1 हफ्ते में स्कूल आने वाले छात्रों की संख्या में इजाफा हुआ है।

वहीं कुछ छात्र परिवहन की समस्या के कारण स्कूल नहीं आ पा रहे हैं। द्वारका स्थित जिंदल पब्लिक स्कूल के प्रिंसिपल उत्तम सिंह ने बताया कि 10वीं 12वीं के करीब 290 बच्चों में 18 जनवरी को 60 फीसदी छात्र स्कूल पहुंचे थे। 24 से 25 जनवरी को छात्रों की उपस्थिति बढ़कर 90 फीसदी हो गई है।

शिक्षा मंत्रालय ने JEE व NEET की प्रवेश परीक्षा में बदलाव से किया इनकार

स्कूलों की कोविड बचाओ व्यवस्था से अभिभवाक संतुष्ट
इसका कारण उत्तम सिंह अभिभावकों की स्कूल की कोविड बचाव को लेकर की गई व्यवस्था से संतुष्टी बताते हैं। उत्तम ने कहा कि 11 महीने से छात्र व अभिभावक कोरोना नियमों से जागरूक हो रहे थे। अब स्कूल में आने पर उन्हें परेशानी नहीं हो रही है। साथ ही वह पढ़ाई भी मन लगाकर कर रहे हैं।

मयूर विहार स्थित विद्या बाल भवन के प्रिंसिपल सतवीर शर्मा बताते हैं कि उन्होंने 10वीं 12वीं के 57-57 छात्र योजना के साथ स्कूल 18 जनवरी से खोला था। 18 से छात्रों की विद्यालय में उपस्थिति धीरे-धीरे 48 से बढ़कर 80 फीसदी हो गई है। बता दें कि कोरोना के चलते दिल्ली में मार्च 2020 से स्कूल बंद थे। जिन्हें इसी माह 18 जनवरी से खोला गया है।

16 जनवरी से शुरू हुआ वैक्सीनेशन
दिल्ली में वैक्सीन आने के बाद ही स्कूल खोले गए हैं। साथ ही यहां पर कोरोना भी अब काफी हद तक कंट्रोल में है। वैक्सीनेसन 16 जनवरी से शुरू हो चुका है। लोगों को  वैक्सीन के प्रति जागरुक करने का काम भी यहां पर किया जा रहा है। दिल्ली में सोमवार को कोरोना वायरस की 1 दिन में 48450 जांच होने के बाद भी 148 ही नए मामले सामने आए हैं।

पिछले 9 महीने में 1 दिन में कोरोना के सबसे कम मामले आए हैं। लगातार 11वें दिन कोरोना के 300 से कम नए मामले सामने आए। वहीं कोरोना संक्रमण की दर 0.31 सीजी दर्ज की गई है, जो मामूली वृद्धि के बावजूद आधे प्रतिशत से नीचे बनी हुई है। 1 दिन में कोरोना से 5 लोगों की मौत हो गई।

दिल्ली: नर्सरी दाखिले को लेकर संशय खत्म, मनीष सिसोदिया ने की तैयारियों की समीक्षा

दिल्ली में संक्रमण दर लगातार 1% से नीचे
पिछले 33 दिनों से संक्रमण दर लगातार 1% से नीचे बनी हुई है। इसके साथ ही कोरोना रिकवरी दर पहली बार 98.02 फ़ीसदी हो गई है, जो कि अब तक की सबसे बड़ी दर है। सक्रिय मरीजों की संख्या अब 1694 रह गई है। जो कुल मामलों का 0.26 प्रतिशत है। दिल्ली के अस्पतालों में 797 में 730 मरीज ही इलाज करवा रहे हैं। सोमवार को जारी दिल्ली सरकार की रिपोर्ट के अनुसार 1 दिन में 190 और मरीज ठीक हुए हैं।

ये भी पढ़ें:

 

comments

.
.
.
.
.