Thursday, Jul 29, 2021
-->
90 percent of corona infected in high attic of mumbai musrnt

झुग्गी नहीं, मुंबई की ऊंची अट्टालिकाओं में मिल रहे हैं 90 फीसदी कोरोना संक्रमित

  • Updated on 4/21/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बृहन्न मुंबई म्युनिसीपल कारपोरेशन (बीएमसी)के अनुसार देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में ऊंचे- ऊंचे अपार्टमेंट वाले भवनों से कोरोना संक्रमण के नित नये मामले सामने आ रहे हैं। मुंबई में लगभग 87000 कोरोना के एक्टिव मामले थे जिनमें 90 फीसद मामले इन्हीं कंक्रीट के ऊंचे भवनों में थे जबकि झुग्गी व गरीबों की बस्तियों में कुल दस फीसद मामले थे।

बीएमसी की ओर से 16 अप्रैल को जारी आंकड़े के अनुसार हाईराइज बिल्डिंगों में कुल 79032 एक्टिव मामले तथा झुग्गी वाले इलाकों में 8411 एक्टिव मामले दर्ज थे। कोरोना की दूसरी लहर में केसेज की ट्रैकिंग करने वाले विशेषज्ञों का मानना है कि जिस तेजी से मामले बढ़े हैं उसी तेजी से इसमें कमी भी आएगी। 

जुलाई 2020 में कराए गये पहले सीरो सर्वेक्षण में यह पाया गया था कि उस समय 57 फीसद संक्रमण के मामले झुग्गियों व बस्तियों में थे जबकि अन्य क्षेत्रों में 16 फीसद केस थे। अगस्त में हुए दूसरे सीरो सर्वे में झुग्गियों में संक्रमण के मामले घटकर 45 फीसद रह गये थे जबकि गैर इलाकों में यह 16 से बढ़कर 18 फीसद हो गया था। कोरोना के पहली लहर में यहां झुग्गियों में रहने वाले लोग सबसे अधिक प्रभावित हुए थे।

जून 2020 तक मुंबई शहर में मिले संक्रमण के कुल मामलों में से दो तिहाई झुग्गियों व गरीब बस्तियों (चाल) से थे। उस समय तक झुग्गियों में रहने वाले 42 लाख लोग कंटेनमेंट जोन में थे जबकि पक्के मकानों व हाईराइज में रहने वाले सिर्फ 8 लाख लोग ही कंटेनमेंट जोन में आए थे। 

बीएमसी ने पहली लहर की तुलना में इस बार कंटेनमेंट जोन के लिए एसओपी (स्टैंडर्ड आपरेटिंग प्रोसीजर) में भी बदलाव किया है। इस बार जिन हाउसिंग सोसायटी में पांच या अधिक संक्रमित मरीज पाए जा रहे हैं उसे माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया जा रहा है। हाउसिंग सोसायटी के पदाधिकारियों को इसी क्रम में गाइडलाइन को पालन करने का निर्देश भी दिया गया है। 

बीएमसी के आंकड़े के अनुसार अब तक सर्वाधिक 273 सील किए गए भवन या माइक्रो कंटेनमेंट जोन अंधेरी जोगेश्वरी इलाके (के वार्ड) में हैं। जबकि 247 कंटेनमेंट जोन मालाबार हिल, ग्रांट रोड (डी-वार्ड) इलाके में हैं। इसी तरह परेल, सीवरी में 147 कंटेनमेंट जोन हैं। यह सभी ऊंची ऊंची आवासीय बिल्डिंगो वाला इलाका है। पूरे मुंबई में 1169 बिल्डिंग तथा 10797 हाईराईज बिल्डिंग के फ्लोर कंटेनमेंट के कारण सील किए गए हैं। इन इलाकों में कंटेनमेंट जोन के तहत लगभग 20 लाख लोग प्रभावित हैं। 

इतनी सख्ती के बावजूद बीएमसी के अफसरों को इन सोसायटियों में संक्रमित होने वाले लोग घूमते मिल जाते हैं। ऐसे ही एक मामले में बीएमसी ने मुकदमा भी दर्ज कराया है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.