Tuesday, Oct 26, 2021
-->
a-lot-of-effort-had-to-be-made-to-wake-up-kumbhakarna-

कुंभकरण को जगाने के लिए करने पड़े काफी जतन

  • Updated on 10/13/2021

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। ढोल-नगाड़े बजाए गए, तरह-तरह से काफी जतन किए गए बावजूद कुंभकरण है कि उठने का नाम ही नहीं ले रहा था। तब एक युक्ति सुझाई गई और स्वादिष्ट भोजन का थाल सजने लगा तब कहीं जाकर निद्रासन का आशीर्वाद मांगने वाले कुंभकरण नींद से जाग पाए। राजधानी दिल्ली में बुधवार को रामलीला मंचन के दौरान रावण द्वारा धूम्ररक्ष को युद्ध में भेजना, युद्ध में रावण का आना, कुंभकरण को जगाना व उसका वध होना से लेकर रावण के पुत्रों के वध का मंचन किया गया। 
कोई नहीं हिला पाया पैर, सब पर भारी पडे अंगद

पूर्व मेयर बने कुंभकरण
लालकिला मैदान में हो रही लवकुश रामलीला कमेटी में उत्तरी दिल्ली नगर निगम के पूर्व मेयर अवतार सिंह ने जबरदस्त रिहर्सल के बाद कुंभकरण का रोल निभाया। इस दौरान उन्होंने अपनी ओजपूर्ण आवाज व दमदार अंदाज से कुंभकरण के किरदार में जान डाल दी। लव कुश रामलीला कमिटी के अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने कहा कि बुधवार को लीला का मंचन देखने 5 देशों के राजदूत परिवार सहित आए थे। भाषा की समस्या के बावजूद उन्होंने 2 घंटे लीला का आनंद लिया। 
राम ने खाए शबरी के बेर, लंका का हुआ दहन
 

रावण के रूप में जलेगा कोरोना 
राजधानी में कहीं जगहों पर तैयारियां पूर्ण नहीं होने की वजह से 3 से 4 दिन का ही मंचन किया जा रहा है। इसी तरह विवेक विहार के डीडीए ग्राउंड में भव्य रामलीला सोसाइटी दशहरे समेत चार दिन की लीला आयोजन कर रही है। जिसमें रावण को कोरोना का रूप दिया गया है। सोसाइटी के प्रधान सतीश लूथरा ने बताया कि एडिशनल डीसीपी वेस्ट सुबोध कुमार गोस्वामी लीला में मुख्य अतिथि के तौर पर आकर लंका दहन से पहले कोरोना के पुतले का दहन करेंगे। लीला मंचन के लिए इस साल रोहिणी से मंडली को बुलाया गया है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.