Thursday, Jan 17, 2019

कुंभ आयोजन में बड़ा हादसा टला, हेलीपैड निर्माण के दौरान हुई घटना

  • Updated on 1/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्रयागराज में कुंभ की तैयारी जोरों पर हैं और इसी के साथ तैयारियों के बीच एक बड़ा हादसा होने से टल गया। कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं को हेलिकाप्टर की सुविधा देने के लिए आयोजन स्थल से थोड़ी दूर पर हेली पेड का निर्माण किया जा रहा था। इसके लिए एक अस्थाई इमारत बनाई जा रही थी जिसका एक हिस्सा ढह गया।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने किया राष्ट्रगीत का अपमान, Video हुआ वायरल

इमारत की मलबे में दो मजदूर दब गए। लेकिन उन्हें जल्द ही रेस्क्यू कर लिया गया और राहत और बचाव दल ने मौके पर पहुंचकर बचाव कार्य पूरा किया। बताया जा रहा है इस हेलीपैड का निर्माण आयोजन में शामिल होने वाले वीपीआईपी गेस्ट के हेलिकॉप्टर को पार्किंग देने के लिए अस्थाई तौर पर बनाया जा रहा था। 

बता दें कि पिछले कई महीने से यूपी के प्रयागराज में कुंभ की तैयारियां जोरों पर हैं। इसके लिए यूपी सरकार ने बड़े पैमाने पर आयोजन किया है। साथ ही ऐसा कहा जा रहा है कि इस बार कुंभ में भारी मात्रा में लोगों के शामिल होने का अंदाजा लगाया जा रहा है। देश-विदेश से श्रद्धालु इस बार कुंभ में शामिल होने वाले हैं। खुद पीएम मोदी ने लोगों से कुंभ में शामिल होने का आह्वान किया है। 

अयोध्या विवादः जस्टिस यू यू ललित ने खुद को मामले से किया अलग, अगली सुनवाई 29 जनवरी को

वहीं प्रदेश सरकार ने प्रयागराज में कुंभ के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम किए जा रहे हैं। वहीं पर्यटकों की सुविधा को देखते हुए प्रयागराज के लिए कई स्पेशल ट्रेने चलाई जा रही हैं। साथ ही यूपी रोडवेज भी पूरी तरह से तैयारी में है। अलग-अलग शहरों से प्रयागराज लाने के लिए कई स्पेशल रोडवेज बसों को चलाया जा रहा है। 

वहीं केंद्र सरकार भी आयोजन स्थल पर पानी का कमी ना रहे इसके लिए यूपी सरकार को 10 हजार क्यूसेक गंगाजल देने की बात कर चुकी है। यूपी के सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि किसानों को सिंचाई के लिए पानी मिलता रहे इसलिए 2 हजार क्यूसेक पानी गंगानहरों के लिए छोड़ा जाएगा और 10 हजार क्यूसेक पानी लगातार प्रयागराज में कुंभ के लिए दिया जाएगा। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.