Tuesday, Jun 28, 2022
-->
a national party has assured all possible help: eknath shinde

एक ‘राष्ट्रीय दल’ ने हरसंभव मदद का भरोसा दिया है : एकनाथ शिंदे

  • Updated on 6/23/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। महाराष्ट्र की महा विकास आघाड़ी (एमवीए) गठबंधन सरकार को संकट में डालने वाले शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे ने बृहस्पतिवार को कहा कि एक ‘‘राष्ट्रीय दल’’ ने उनकी बगावत को ऐतिहासिक करार देने के साथ ही हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है। मुंबई में शिंदे के कार्यालय की ओर से एक वीडियो जारी किया गया है, जिसमें वह गुवाहाटी के एक होटल में शिवसेना के बागी विधायकों को संबोधित कर रहे हैं। वीडियो में देखा जा सकता है कि विधायक अपनी ओर से सर्वसम्मति से समूह के नेता के तौर पर शिंदे को आगे के फैसले लेने के लिए अधिकृत कर रहे हैं। 

शरद पवार ने किया साफ- ठाकरे सरकार के भाग्य का फैसला होगा विधानसभा में

वीडियो में शिंदे कह रहे हैं, ‘‘हमारी चिंताएं और खुशियां एक समान हैं। हम एकजुट हैं और जीत हमारी होगी। एक राष्ट्रीय दल है, एक महाशक्ति...आप जानते हैं कि उन्होंने पाकिस्तान को मात दी। उस दल का कहना है कि हमने एक ऐतिहासिक निर्णय लिया है और हमे हरसंभव मदद का भरोसा दिया है।’’ वर्तमान में शिंदे शिवसेना के 37 बागी विधायकों और नौ निर्दलीय विधायकों के साथ गुवाहाटी में डेरा डाले हुए हैं। शिंदे के कार्यालय की ओर से जारी बयान में कहा गया कि उन्हें सर्वसम्मति से फैसले लेने के लिए अधिकृत किया गया है। 

लोकसभा उपचुनाव में सत्ता का दुरुपयोग करने में BJP ने कोई कसर नहीं छोड़ी : अखिलेश यादव 

हालांकि, महाराष्ट्र विधानसभा के उपाध्यक्ष नरहरि जिरवाल ने कहा है कि उन्होंने बागी विधायक एकनाथ शिंदे की जगह अजय चौधरी को सदन में शिवसेना का विधायक दल का नेता नियुक्त किये जाने को मंजूरी दे दी है। इस बीच, राज्य के मौजूदा राजनीतिक संकट में विपक्षी दल भाजपा की भूमिका के सवाल पर मुंबई में संवाददाताओं से बातचीत के दौरान उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा, ‘‘अब तक, भाजपा कोई भी शीर्ष नेता सामने नजर नहीं आ रहा है।’’ राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल ने कहा कि एमवीए के पास बहुमत है। उन्होंने कहा, ‘‘बागियों ने शिवसेना छोड़ी नहीं है। वे वापस लौटेंगे।’’ 

महाराष्ट्र सरकार को अस्थिर करने का मकसद राष्ट्रपति चुनाव : कांग्रेस

ठाकरे के दूत ने भी सूरत से गुवाहाटी की उड़ान भरी 
शिवसेना के मंत्री एकनाथ शिंदे के विद्रोह के बाद महाराष्ट्र में राजनीतिक उथल-पुथल के बीच पड़ोसी राज्य (महाराष्ट्र) के छह विधायक और एक विधान पार्षद बृहस्पतिवार को गुजरात के सूरत शहर पहुंचे और बाद में वे दो चार्टर्ड विमानों से असम के गुवाहाटी चले गये। सूत्रों ने यह जानकारी दी। शिवसेना के बागी विधायक गुवाहाटी में डेरा डाले हुए हैं। छह विधायकों के अलावा, शिवसेना के विधान पार्षद रवींद्र फाटक भी सूरत से भाजपा-शासित असम की राजधानी गुवाहाटी पहुंचे। गौरतलब है कि फाटक उस दो-सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा थे, जो शिंदे एवं अन्य बागी विधायकों को मनाने एवं राजनीतिक संकट के हल के लिए सूरत के होटल में विचार विमर्श के लिए वहां पहुंचे थे। 

महाराष्ट्र में सरकार गिराने की भाजपा की कोशिश अनैतिक, असंवैधानिक : ममता 

मीडिया द्वारा प्राप्त यात्री विवरण के अनुसार, फाटक शिवसेना विधायकों - दादाजी भूसे और संजय राठौड़ के साथ बृहस्पतिवार को दोपहर सूरत से एक चार्टर्ड उड़ान से गुवाहाटी के लिए रवाना हुए। भूसे एमवीए सरकार में कृषि मंत्री हैं। सूत्रों ने कहा कि सुबह चार अन्य विधायक- मंगेश कुदलकर, सदा सर्वंकर, आशीष जायसवाल और दीपक केसकर- एक अन्य चार्टर्ड विमान से गुवाहाटी पहुंचे थे। सूत्रों ने उड़ान यात्री सूची का हवाला देते हुए कहा कि ये चारों भी सूरत हवाईअड्डे से ही रवाना हुए थे। शिंदे फिलहाल शिवसेना के 37 बागी विधायकों और नौ निर्दलीय विधायकों के साथ गुवाहाटी के एक होटल में डेरा डाले हुए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.