Sunday, Jan 23, 2022
-->
aap delhi govt will organize drama based on br ambedkar life: arvind kejriwal rkdsnt

बाबा साहेब आंबेडकर के सपने को पूरा करने की केजरीवाल ने खाई कसम

  • Updated on 12/6/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली सरकार पांच जनवरी को जवाहर लाल नेहरू (जेएलएन) स्टेडियम में बाबा साहेब बी आर आंबेडकर के जीवन पर आधारित अंतरराष्ट्रीय स्तर के एक नाटक का मंचन करवाएगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को यह जानकारी दी।    

मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ श्रमिक संगठन करेंगे देशव्यापी हड़ताल

 

 कंगना रनौत ने दिल्ली विधानसभा कमेटी के सामने पेश होने के लिए मांगा और वक्त

आंबेडकर को उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि देते हुए केजरीवाल ने कहा कि नाटक में अंतरराष्ट्रीय स्तर के जाने-माने कलाकार अभिनय करेंगे। उन्होंने कहा कि 100 फुट लंबे मंच पर  नाटक के 50 शो होंगे और लोगों को उनमें नि:शुल्क प्रवेश मिलेगा।  केजरीवाल ने कहा, 'यह कहना अतिशयोक्ति नहीं होगी कि बाबासाहेब आंबेडकर सबसे अधिक शिक्षित भारतीय थे। उन्होंने 65 विषयों में स्नातकोत्तर किया और डॉक्टरेट की दो उपाधि प्राप्त की। वह नौ भाषाएं जानते थे और उनके पास एक निजी पुस्तकालय था, जिसमें 50,000 पुस्तकें थीं।’’   

नगालैंड में सुरक्षाबलों की गोलीबारी में 14 नागरिकों की मौत, विपक्ष ने साधा गृह मंत्रालय पर निशाना

    दिल्ली के मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि वह देश के हर गरीब बच्चे को शिक्षित करने के आंबेडकर के सपने को पूरा करेंगे। भारत के पहले कानून मंत्री और देश के संविधान के निर्माता, आंबेडकर ने सामाजिक सुधारों और समाज के सबसे उपेक्षित तबकों के उत्थान के लिए अथक प्रयास किया। 1956 में उनका निधन हो गया।

दिल्ली में धरने पर बैठी महबूबा मुफ्ती ने गांधी-आंबेडकर को याद कर लोगों को चेताया

     मुख्यमंत्री ने ‘‘बाबासाहब तेरा सपना अधूरा, केजरीवाल करेगा पूरा’’ का नारा देते हुए कहा, 'बाबासाहब का एक सपना था कि हर बच्चे को संघर्ष किए बिना अच्छी शिक्षा मिले। मैंने अब एक प्रण लिया है कि मैं उनका सपना पूरा करूंगा। 70 साल हो गए हैं और अभी भी इस देश के गरीबों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा नहीं मिल पा रही है।’’         

पंजाब चुनाव के ऐलान से पहले अमरिंदर सिंह हुए सक्रिय, चंडीगढ़ में खोला अपनी पार्टी का दफ्तर

   गौरतलब है कि केजरीवाल सरकार जय भीम मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास योजना चलाती है जिसके तहत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर श्रेणियों के मेधावी छात्रों को आईआईटी-जेईई, नीट, सीएलएटी, सिविल सेवा, बैंकिंग, रेलवे, एसएससी जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए निजी संस्थानों से मुफ्त कोचिंग मिलती है।  

टाटा के खाते में गई एयर इंडिया पर भारतीय हवाईअड्डा प्राधिकरण के 2,350 करोड़ रुपये बकाया

comments

.
.
.
.
.