Monday, Nov 28, 2022
-->
aap kejriwal said in gujarat people are tired of 27 years of bjp rule and congress

केजरीवाल गुजरात में बोले- जनता 27 साल के BJP शासन से उब चुकी है और कांग्रेस...

  • Updated on 7/3/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा, ‘‘जनता 27 साल के भाजपा शासन से उब चुकी है। भाजपा मानती है कि कांग्रेस उसका विकल्प नहीं हो सकती है। यहां तक जनता ने जब पिछले चुनाव में कांग्रेस पर दोबारा भरोसा किया और उसके कई प्रत्याशियों को समर्थन दिया तब कई विधायक पार्टी छोड़ भाजपा में शामिल हो गए। इसलिए उसमें अहंकार है।’’ केजरीवाल सोमवार को मुफ्त बिजली के वादे पर ‘टाउनहॉल’ का आयोजन करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘आप को पूरा भरोसा है कि गुजरात में वह अगली सरकार बनाएगी।’’      

‘अग्निपथ’ के विरोध में AAP कार्यकर्ताओं का भिक्षाटन, PM मोदी के नाम पर भेजे 420 रुपये के चेक 

  •  

पैगंबर टिप्पणी विवाद : नुपुर शर्मा के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी

दिल्ली के मुख्यमंत्री गुजरात के दो दिवसीय दौरे पर हैं जहां पर इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं। उन्होंने कहा कि आप का गुजरात में इतने कम समय में विस्तार छोटी बात नहीं है। केजरीवाल ने दावा किया कि राज्य की जनता 27 साल के भाजपा शासन से उब चुकी है।’’ केजरीवाल ने कहा, ‘‘इस बार लोग आप को बड़ी उम्मीद से देख रहे हैं। आज, करीब 7,500 (नव नियुक्त) आप पदाधिकारी शपथ लेंगे। कम समय में इतना विस्तार छोटी बात नहीं है।’’

पंजाब मंत्रिमंडल का सोमवार को होगा विस्तार, 5 विधायक बन सकते हैं मंत्री

अरविंद केजरीवाल ने रविवार को लोगों से अपील की कि वे गुजरात के आगामी विधानसभा चुनाव में अपना मत कांग्रेस को देकर बेकार नहीं करें और सुनिश्चित करें कि देश की सबसे पुरानी पार्टी को एक भी मत नहीं मिले। उन्होंने कहा कि अगर भाजपा से नाराज उन सभी लोगों के मत उसे मिल जाए जो कांग्रेस को अपना मत नहीं देना चाहते हैं तो ‘आप’ गुजरात में अगली सरकार बना सकती है।  अहमदाबाद में पार्टी द्वारा नवनियुक्त करीब सात हजार पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि कांग्रेस गुजरात में केवल कागजों पर ही अस्तित्व में है जबकि ‘आप’ का संगठन मुख्य विपक्षी पार्टी से कई गुना बड़ा हो चुका है और ‘‘ बहुत कम समय में लाखों लोग ‘आप’ से जुड़े हैं।’’

केजरीवाल ने दावा किया कि हाल में दिल्ली के दौरे पर गुजरात से गया भाजपा का प्रतिनिधिमंडल वहां के स्कूलों और अस्पतालों में एक भी कमी निकालने में असफल रहा। उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों से कहा कि वे गुजरात के मतदाताओं से उनका मत मांगने के दौरान दिल्ली और पंजाब की ‘आप’ सरकारों द्वारा किए गए कार्यों की जानकारी दें। केजरीवाल ने कहा, ‘‘ मैं भरोसे से कह सकता हूं कि आज ‘आप’ का गुजरात में कई वर्षो तक शासन करने वाली कांग्रेस की तुलना में कहीं बड़ा संगठन है। कांग्रेस केवल कागजों पर सीमित है। यह ऐसी पार्टी है जिसके पदाधिकारी और कार्यकर्ता नहीं हैं व लाखों की संख्या में लोग ‘आप’ में शामिल हो रहे हैं।’’  उन्होंने दावा किया कि एक महीने में बूथ स्तर का संगठन बनाने के बाद ‘आप’ का गुजरात में भाजपा से भी बड़ा संगठन होगा। केजरीवाल ने दावा किया कि भाजपा लोगों को काम के लिए भुगतान करती है जबकि ‘आप’ कार्यकर्ता रुपयों के लिए नहीं आए हैं और वे निष्ठावान हैं।  

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मतदाताओं को बताएं कि कांग्रेस को वोट देने का कोई तुक नहीं है। पिछली बार लोगों ने बड़ी उम्मीद के साथ कांग्रेस को मत दिया था, लेकिन अबतक (गुजरात में) 57 विधायक पार्टी छोड़ चुके हैं। लोगों से कहें कि वे कांग्रेस का समर्थन कर अपना मत बेकार नहीं करें। सुनिश्चित करें कि कांग्रेस को आगामी चुनाव में एक भी मत नहीं मिले।’’ केजरीवाल ने कहा कि उंगली उठाने के बजाय सरकार व लोगों को मिलकर उस हालात को सामान्य करने के लिए काम करना चाहिए, जिसकी वजह से उदयपुर और अमरावती की हत्याएं हुईं। राजस्थान के उदयपुर में 28 जून को दर्जी कन्हैयालाल की हत्या कर दी गई थी जबकि 21 जून को महाराष्ट्र के अमरावती में दवाविक्रेता (केमिस्ट) की हत्या कर दी गई। पुलिस का दावा है कि दोनों हत्याएं भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नुपुर शर्मा की पैगंबर मोहम्मद पर दी गई कथित आपत्तिजनक टिप्पणी का सोशल मीडिया पर समर्थन करने की वजह से की गई है। दोनों ही मामलों की जांच राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) कर रही है। 

जम्मू कश्मीर में मतदाता सूची में संशोधन के बाद होंगे चुनाव : उपराज्यपाल सिन्हा

पार्टी की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में शाह बोले -अगले 30-40 साल तक BJP का युग

इन दोनों हत्याओं के बारे में पूछे जाने पर केजरीवाल ने कहा कि देश में जो भी मौजूदा समय में हो रहा है वह ठीक नहीं है और वह इनकी कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘इस तरह देश प्रगति नहीं कर सकता। देश में शांति की जरूरत है और सभी को एक साथ रहना चाहिए। मैंने कड़े शब्दों में इसकी ङ्क्षनदा की है और मैं दोबारा इसकी निंदा करता हूं। उम्मीद करता हूं कि आरोपियों को यथाशीघ्र गिरफ्तार कर कड़ी सजा दी जाएगी ताकि दूसरे इस तरह का अपराध करने की हिम्मत नहीं कर सके।’’ जब उनसे पूछा गया कि वह इन घटनाओं के लिए किसे जिम्मेदार मानते हैं तो आप प्रमुख ने कहा, ‘‘उंगली उठाने से कुछ नहीं होगा। जरूरत है कि सरकार और लोग हालात को सामान्य करने के लिए एक साथ आए।’’ 


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.