Friday, Jan 18, 2019

मनीष सिसोदिया ने सुखपाल खैरा को सुनाई खरी-खरी, दी नसीहत

  • Updated on 1/6/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। आम आदमी पार्टी की पंजाब ईकाई में इन दिनों सब कुछ सही नहीं चल रहा है। एचएस फुल्का के बाद अब विधायक सुखपाल सिंह खैरा ने भी पार्टी को करारा झटका दिया है। उन्होंने हालांकि पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दिया है। इसको लेकर अब पार्टी में खलबली मच गई है। 

पंजाब में फुल्का के बाद सुखपाल खैरा ने दिया AAP को झटका, हैरान केजरीवाल

पासवान को नहीं भा रहे हैं तीन तलाक, राम मंदिर जैसे BJP के चहेते मुद्दे

पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल को लिखे खत में खैरा ने आरोप लगाया कि अन्ना हजारे आंदोलन के वक्त जिन सिद्धांतों और विचारधारा को लेकर पार्टी गठित की गई थी, उससे अब भटकती जा रही है। इसलिए वह मजबूरन पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रहे हैं। 

Ind v Aus Test : आस्ट्रेलिया को उसी की जमीं पर भारत ने दिया फालोआन

बता दे कि आप का केंद्रीय नेतृत्व पंजाब में चल रही गतिविधियों पर नजर रखे है। ऐसे में संभव है कि संगठन में आने वाले दिनों में कुछ बदलाव भी देखने को मिले। नवंबर 2018 में बागी तेवर अपनाने वाले खैरा और कंवर संधू को पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त रहने की वजह से पार्टी से सस्पेंड कर दिया था। 

मनु भाकर ने हरियाणा के खेल मंत्री को याद दिलाया वादा, भड़क गए अनिल विज

कांग्रेस का आरोप- HAL को लेकर रक्षामंत्री सीतारमण ने बोला झूठ

खैरा के इस कदम पर पंजाब के प्रभारी और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी पहली पहली प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने साफ कहा, 'अगर वह देश के लिए काम करना चाहते हैं, तो वह हमारे साथ रह सकते हैं। अगर वह निजी हित और पद के लिए काम कर रहे हैं तो वह कहीं भी जा सकते हैं। इससे हमें कोई फर्क नहीं पड़ता।'

रॉबर्ट वड्रा से पहले उनके करीबियों की बढ़ी मुश्किलें, वारंट के लिए कोर्ट में ED

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.