Thursday, Jun 30, 2022
-->
aap-raghav-chadha-say-not-decide-on-alliance-with-shiromani-akali-dal-united-in-punjab-rkdsnt

पंजाब में शिरोमणि अकाली दल (यूनाइटेड) से गठबंधन पर नहीं लिया फैसला : AAP 

  • Updated on 7/25/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। आम आदमी पार्टी के पंजाब सह-प्रभारी राघव चड्ढा ने रविवार को स्पष्ट किया कि उनकी पार्टी ने राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले शिरोमणि अकाली दल (यूनाइटेड) के साथ गठबंधन को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया है और ऐसी कोई बातचीत नहीं चल रही है।

पेगासस मुद्दा: राज्यसभा सदस्य ने अदालत निगरानी में जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट का किया रुख

चड्ढा ने ट्वीट किया,‘’आम आदमी पार्टी के पंजाब के सह-प्रभारी के रूप में मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि शिरोमणि अकाली दल (यूनाइटेड) के साथ गठबंधन पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है और हम बातचीत नहीं कर रहे हैं।‘‘ उन्होंने अगले साल होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले दोनों दलों के बीच संभावित गठजोड़ के बारे में एक खबर को टैग करते हुए स्पष्टीकरण दिया।

क्षेत्रीय दलों को राष्ट्रीय मोर्चा बनाना चाहिए: सुखबीर बादल
शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने रविवार को कहा कि क्षेत्रीय दलों को एकसाथ आना चाहिए और 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा से मुकाबला करने के लिए एक राष्ट्रीय मोर्चा बनाना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा के साथ उनकी पार्टी की कहानी खत्म हो गई है। बादल ने कहा कि किसानों के मुद्दे शिअद की विचारधारा के मूल में हैं और उनकी पार्टी इनपर कभी समझौता नहीं कर सकती तथा इसीलिए उसने तीन विवादास्पद कृषि कानूनों को लेकर भाजपा के साथ अपना दशकों पुराना गठबंधन तोड़ दिया और केंद्र सरकार से बाहर हो गई। 

CM पद से हटाए जाने की संभावना पर येदियुरप्पा BJP आलाकमान के निर्देश के बाद ही लेंगे उचित फैसला

बादल ने पीटीआई से एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘शिअद किसानों की पार्टी है और उनके मुद्दे हमारी विचारधारा के मूल हैं। चाहे कुछ भी हो जाए और हमें जो भी कीमत चुकानी पड़े, हम इन कानूनों को पंजाब में लागू नहीं होने देंगे।’’     किसान केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं। पिछले साल सितंबर में, बादल की पत्नी हरसिमरत कौर ने विधेयकों के विरोध में केंद्रीय मंत्री का पद छोड़ दिया था।  

चिदंबरम बोले- पीएम मोदी को संसद में बयान देना चाहिए, जासूसी हुई या नहीं बताना चाहिए

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.