Tuesday, Jan 25, 2022
-->
aap-sisodia-visits-schools-in-channi-home-district-intensifies-war-on-quality-of-education-rkdsnt

सिसोदिया ने चन्नी के गृह जिले के स्कूलों किया दौरा, शिक्षा की गुणवत्ता पर वाकयुद्ध तेज

  • Updated on 12/1/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पंजाब के शिक्षा मंत्री परगट सिंह द्वारा स्कूली शिक्षा को लेकर दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया पर सवाल खड़ा किए जाने के कुछ दिन बाद बुधवार को सिसोदिया ने सीमावर्ती राज्य के दो स्कूलों का औचक दौरा किया और उनकी स्थिति को दयनीय करार दिया। 

सेंट्रल विस्टा: केंद्र ने कोर्ट को बताया - दिल्ली वक्फ की संपत्ति को कुछ नहीं हो रहा

परगट सिंह ने सोमवार को एनपीजीआई पैमाने के आधार पर पंजाब के स्कूलों के साथ तुलना के लिए दिल्ली के 250 सरकारी स्कूलों और उनके प्रमुख मापदंडों की सूची देने की चुनौती दिल्ली सरकार को दी थी। इसके जवाब में दिल्ली के शिक्षा मंत्री सिसोदिया ने पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के विधानसभा क्षेत्र चमकौर साहिब में दो स्कूलों का औचक दौरा किया। 

अखिलेश का संघ-भाजपा पर कटाक्ष, कहा- जिनके पास परिवार नहीं है, वे जनता का दर्द नहीं समझ सकते 

चमकौर साहिब निर्वाचन क्षेत्र के मकरोना कलां गांव में एक स्कूल के बाहर खड़े सिसोदिया ने दावा किया कि स्कूल का शौचालय बदबूदार है और कक्षाओं में मकड़ी के जाले लगे हैं और फर्नीचर टूटा हुआ है। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ सिसोदिया ने मुख्यमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र के चकलां गांव में एक अन्य सरकारी प्राथमिक विद्यालय का भी दौरा किया। 

पंजाब चुनाव से पहले अकाली दल को छोड़ BJP में शामिल हुए मनजिंदर सिंह सिरसा

सिसोदिया ने संवाददाताओं से कहा,‘‘मैं पंजाब के मुख्यमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र और उनके गांव में हूं। मकरोना कलां में नर्सरी से कक्षा पांचवीं तक के इस स्कूल में केवल एक शिक्षक है, जोकि 6,000 रुपये प्रति माह के वेतन पर कार्यरत है।‘‘ उन्होंने कहा कि इसके अलावा, इस स्कूल में एक सहायक काम कर रहा है।      सिसोदिया ने कहा,‘‘यह स्थिति चन्नी के विधानसभा क्षेत्र के एक स्कूल की है। अगर हम इसे‘नंबर एक’स्कूल कहें तो यह बच्चों के साथ मजाक है।‘‘

ममता बोलीं- विपक्ष को दिशा दिखाने के लिए कमेटी गठित करने की राय कांग्रेस को दी थी

comments

.
.
.
.
.