हेमकुंड एक्सप्रेस का एसी फेल, यात्रियों ने किया हंगामा

  • Updated on 1/14/2019

हरिद्वार/ब्यूरो। हरिद्वार से जम्मूतवी जाने वाले जम्मू के बच्चे से लेकर बुजुर्ग यात्रियों पर सोमवार को बेहद भारी गुजरने वाला है। वातानुकूलित कोच का एसी फेल होने के कारण उसे हरिद्वार स्टेशन पर लगाया नहीं गया। जिससे नाराज जम्मू के यात्रियों ने हंगामा किया। रेलवे की ओर से कोई इंतजाम नहीं किया गया।

बल्कि ये कहा गया कि जिसे जाना है वह स्लीपर में जाएं या फिर अपना टिकट रिफंड ले ले। ऐन वक्त पर वातानुकूलित कोच नहीं लगाने पर यात्रियों ने नाराजगी जताई और रेल सहित हरिद्वार रेलवे के स्टाफ को व्यवहार को लेकर रेल मंत्री व रेल मंत्रालय को कंपलेन करने की बात कही।

ऋषिकेश से चलकर श्री माता वैष्णव देवी कटरा तक स्टेशन तक जाने वाली हेमकुंड एक्सप्रेस निर्धारित समय शाम के सवा पांच बजे के करीब हरिद्वार रेलवे स्टेशन पर पहुंची। हरिद्वार रेलवे स्टेशन पर शयनयान सहित एसी कोच जोड़े जाते हैं। बताया जाता है कि वातानुकूलित बी-टू कोच काफी देर तक नहीं जोड़ा गया, जिस पर यात्रियों की बेचैन बढ़ गई। स्टेशन अधीक्षक, स्टेशन मास्टर से वातानुकूलित बी-टू कोच के यात्री मिले तो जवाब मिला कि कोच का एसी फेल हो गया है। 

विधि विधान से खुले आदिबद्री मंदिर के कपाट

लिहाजा उसे नहीं जोड़ा जा सकता है। यात्रियों ने वैकल्पिक व्यवस्था की मांग स्टेशन अधीक्षक से की। जिस पर यात्रियों को बताया गया कि या तो वे रिफंड ले लें या फिर शयनयान में सफर करें। नाराज जम्मू के यात्रियों ने इसे लेकर नाराजगी जताई, हंगामा भी किया। बावजूद उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई। मजबूरन वे इस कड़कड़ाती ठंड में बिना कंबल के शयनयान में सफर को मजबूर हुए।

जम्मू के 60 लोगों का था बी-टू कोच में रिजर्वेशन
जम्मू के रहने वाले शिवम गुप्ता, सारस्वत गुप्ता, एयू गुप्ता, विजय आदि ने बताया कि वे हरिद्वार दूधाधारी आश्रम में आए थे। बी-टू कोच में उनका रिजर्वेशन था। साठ लोगों का एक साथ इसी कोच में रिजर्वेशन था। बुजुर्ग से लेकर बच्चे तक साथ हैं। वातानुकूलित में सफर की वजह से कंबल, रजाई, लोई कुछ भी लेकर वह नहीं चले।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.