Monday, Sep 20, 2021
-->
adani group breaks branding, logo agreement, group initiates changes - aai committees rkdsnt

अडाणी ग्रुप ने ब्रांडिंग, Logo करार तोड़ा, शुरू किए बदलाव - AAI कमेटियां

  • Updated on 7/21/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। केंद्र द्वारा संचालित भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) की तीन समितियों ने जनवरी में अहमदाबाद, मेंगलुरु और लखनऊ हवाईअड्डों पर अडाणी समूह को ब्रांडिंग और लोगो मानदंडों का उल्लंघन करते हुए पाया। इसके बाद इन तीन हवाई अड्डों का संचालन करने वाली अडाणी समूह की कंपनियों ने ब्रांडिंग और डिस्प्ले में बदलाव करना शुरू कर दिया है, ताकि उन्हें रियायत समझौतों के अनुरूप बनाया जा सके, जिन पर उन्होंने एएआई के साथ हस्ताक्षर किए थे। एएआई ने कहा कि 29 जून को लखनऊ और मंगलौर हवाईअड्डों पर ब्रांडिंग और डिस्प्ले में बदलाव की प्रक्रिया चल रही थी और अहमदाबाद हवाईअड्डे पर इसे पूरा कर लिया गया है।   

किसान यूनियन नेताओं ने जंतर मंतर पर शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन का किया ऐलान

आरटीआई प्रश्नों के जवाब में मिली जानकारी भी शामिल है।  अडाणी समूह ने फरवरी 2019 में उपरोक्त तीन हवाई अड्डों को चलाने के लिए बोलियां जीतीं। इसकी कंपनियों - अडाणी लखनऊ इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (एएलआईएएल), अडाणी मंगलुरु इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (एएमआईएएल) और अडाणी अहमदाबाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (एएआईएएल) ने फरवरी 2020 में एएआई के साथ रियायत समझौते पर हस्ताक्षर किए। इन कंपनियों ने अक्टूबर और नवंबर 2020 में हवाईअड्डों का कार्यभार संभाला।   

मोदी सरकार का दावा- दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन के अभाव में नहीं हुई किसी की मौत

  एएआई ने दिसंबर 2020 में तीन हवाईअड्डों पर ब्रांडिंग और डिस्प्ले को रियायत समझौतों के अनुसार नहीं पाया। इसलिए तीनों कंपनियों को पत्र लिखकर ‘‘सुधारात्मक उपाय’’ करने के लिए कहा। हालांकि, इन कंपनियों ने दिसंबर के अंत में जवाब दिया कि उन्होंने समझौतों के तहत ब्रांडिंग मानदंडों का उल्लंघन नहीं किया है।

पेगासस जासूसी मामला : अखिलेश यादव और मायावती ने भी मोदी सरकार को घेरा 

     इसके एक महीने बाद एएआई ने तीनों हवाई अड्डों पर सभी होॢडंग और डिस्प्ले का संयुक्त सर्वेक्षण करने के लिए तीन अलग-अलग समितियों का गठन किया। प्रत्येक समिति में चार सदस्य थे- अडाणी समूह की कंपनी का एक कार्यकारी, जो हवाई अड्डे का संचालन कर रहा है, केंद्र द्वारा संचालित इंजीनियरिंग प्रोजेक्ट््स (इंडिया) लिमिटेड का एक अधिकारी और एएआई के दो अधिकारी।      समिति में अपनी जांच में पाया की समझौते की शर्तों का उल्लंघन किया गया है।    

पेगासस जासूसी कांड को लेकर अमित शाह ने तोड़ी चुप्पी, कांग्रेस पर साधा निशाना

  इस बारे में अडाणी समूह से पूछा कि क्या वह इन तीन समितियों के निष्कर्षों से सहमत है और क्या उसने तीनों हवाईअड्डों पर डिस्प्ले और ब्रांडिंग को बदलने का काम पूरा कर लिया है। इसके जवाब में अडाणी समूह के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हमें एएआई के साथ साझेदारी करने पर गर्व है... एएआई और अडाणी एयरपोर्ट के बीच हवाईअड्डों पर साझा-ब्रांङ्क्षडग और अन्य पहलुओं पर आपसी सहमति है।’’   

मुंबई पुलिस का दावा- राज कुंद्रा की कंपनी पोर्न से जुड़ी ब्रटिश कंपनी के लिए कर रही थी काम

  उन्होंने आगे कहा कि समझौते के अनुसार प्राधिकरण और परिचालक दोनों के लोगो एक साथ समान आकार में प्रर्दिशत किए जाएंगे।  एक आरटीआई के जवाब में एएआई ने कहा कि लखनऊ और मेंगलुरू हवाईअड्डों पर ब्रांडिंग और होर्डिंग में बदलाव किए जा रहे हैं, जबकि अहमदाबाद हवाईअड्डे पर ब्रांडिंग और होर्डिंग समझौते के शर्तों के अनुसार हैं।      

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.