Wednesday, Oct 27, 2021
-->
agni-5, which can kill five thousand km, was tested today, china stunned musrnt

पांच हजार किमी तक मार करने वाला अग्नि- 5 का परीक्षण आज, चीन तिलमिलाया

  • Updated on 9/23/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। परमाणु हथियारों को ले जाने में सक्षम अग्नि- 5 मिसाइल का परीक्षण भारत 23 सितम्बर को करने जा रहा है। इस खबर से चीन तिलमिला गया है। पांच हजार किलोमीटर तक मार करने वाली इस मिसाइल की जद में चीन के अधिकांश प्रमुख शहर आ जाएंगे।

इस मिसाइल के सेना में शामिल होने के बाद भारत दुनिया के उन देशों में शामिल हो जाएगा, जिनके पास न्यूक्लियर हथियारों से लैस अंतर महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइले हैं। अग्नि- 5 के परीक्षण की खबर पर चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजान न कहा है कि भारत न्यूक्लियर हथियार ले जाने में सक्षम बैलिस्टिक मिसाइलों को विकसित नहीं कर सकता। यह संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव 1172 के खिलाफ है।

इस प्रस्ताव में भारत और पाकिस्तान दोनों से अपने परमाणु कार्यक्रम बंद करने के लिए कहा गया था। हालांकि भारत इस प्रस्ताव को मानने के लिए बाध्य नहीं है। अग्नि-5 का पहला परीक्षण 19 अप्रैल 2012 में किया गया था, जो सफल रहा था। 

पहला परीक्षण रेल मोबाइल लॉन्चर से किया गया
19 अप्रैल 2012 को उड़ीसा में इसका पहला टेस्ट किया गया था, जो सफल रहा था। यह परीक्षण रेल मोबाइल लॉन्चर से किया गया। इसके बाद जनवरी 2015 में मिसाइल का पहला कैनिस्टर टेस्ट किया गया था। तब मिसाइल को रोड मोबाइल लॉन्चर से लॉन्च किया गया था।

10 दिसंबर 2018 को मिसाइल का आखिरी टेस्ट किया गया। खास बात ये है कि अब तक मिसाइल के 7 टेस्ट किए जा चुके हैं, सभी सफल रहे हैं। अग्नि-5 को 2020 में ही सेना में शामिल करने की तैयारी थी, लेकिन कोरोना की वजह से टेस्ट में देरी हो गई।

ICBM वाला 8वां देश होगा भारत
फिलहाल दुनिया के मुट्ठीभर देशों के पास ही इंटर कॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) हैं। इनमें रूस, अमेरिका, चीन, फ्रांस, इजराइल, ब्रिटेन,चीन और उत्तर कोरिया शामिल हैं। भारत इस ताकत से लैस होने वाला दुनिया का 8वां देश होगा।

अग्नि 5 की विशेषताएं

अग्नि 5 न्यूक्लियर हथियारों से लैस भारत की पहली इंटर कॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल है

इस मिसाइल की रेंज 6000 किलोमीटर है

एक साथ डेढ़ टन तक परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम

स्पीड 24 मैक यानी आवाज की स्पीड से 24 गुना तेज

कैनिस्टर तकनीक की वजह से आसानी से ट्रांसपोर्ट की जा सकती है

अग्नि 5 सीरीज की ये 5वीं मिसाइल है और इसकी उड़ान ने हर बार देश को गौरवान्वित किया है

-  इस बार आसमान में भारत की मिट्टी की खूशबू भी महकेगी क्योंकि इसे डीआरडीओ ने तैयार किया है

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.