Saturday, Jan 22, 2022
-->
agreement on vaccine with brazil many countries including south africa also demand albsnt

ब्राजील के साथ वैक्सीन को लेकर हुआ करार, दक्षिण अफ्रीका समेत अनेक देशों ने भी की मांग

  • Updated on 1/12/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश में बने कोरोना वैक्सीन को लेकर भले ही विपक्षी दलों ने सवाल उठाया है लेकिन ब्राजील ने वैक्सीन की खैफ की मांग की है। इसी कड़ी में भारत बायोटेक के साथ ब्राजील ने करार किया है। वहीं ब्राजील के अलावा मोरक्को, सऊदी अरब, म्यांमार, बांग्लादेश, दक्षिण अफ्रीका ने भी भारत से वैक्सीन की आपूर्ति की मांग की है।

राकेश टिकेत ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले से जताई असहमति, कमेटी को ठुकराया 

बता दें कि देश में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरु की जाएगी। केंद्र सरकार ने इस बाबत बड़ी घोषणा पहले ही कर चुकी है। वहीं देश के अलग-अलग राज्यों में कोरोना वैक्सीन को पहुंचाने की तैयारी भी जोर-शोर से चल रही है। एक जानकारी के अनुसार सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया पुणे से कोविशील्ड वैक्सीन की खेप भेजी गई है। पहले ही केंद्र सरकार ने  सीरम इंस्टीट्यूट को 1 करोड़ 10 लाख डोज देने के ऑर्डर दे चुके है। सीरम की वैक्सीन कोविशील्ड की खेप को  दिल्ली समेत अनेक शहरों में भेजा गया है। इस वैक्सीन को स्पाइसजेट के विमान से कहीं ट्रकों से भेजा जा रहा है।

कृषि कानूनों के अमल पर SC के फैसले से भड़के किसान, कहा- यह सरकार का काम था, कोर्ट का नहीं

मालूम हो कि सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने दावा किया उनकी कंपनी देश में सबसे सस्ती वैक्सीन उपलब्ध करा रही है। उन्होंने कहा कि 200 रुपये प्रति डोज के हिसाब से वैक्सीन दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मार्च तक 5 से 6 करोड़ तक वैक्सीन का ऑर्डर जा सकता है। वहीं केंद्र सरकार ने भारत बायोटेक को कोवैक्सीन के 55 लाख डोज का ऑर्डर दिया है। जिसमें 16.5 लाख डोज केंद्र सरकार को फ्री दिये जाएंगे। वहीं 38.5 लाख डोज 296 रुपये प्रति डोज के हिसाब से दिया जाएगा। उत्तरप्रदेश में पहली खेप में 11 लाख वैक्सीन भेजने की तैयारी है। फिर लखनऊ से जिले और ब्लॉक तक पहुंचाया जाएगा।      

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...


 


 

 

 

 

comments

.
.
.
.
.