Saturday, Jul 20, 2019

ADC मानहानि मामले में अहमदाबाद कोर्ट से राहुल गांधी को मिली जमानत

  • Updated on 7/12/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को एडीसी (ADC) बैंक मानहानि के मामले में अहमदाबाद की मेट्रोपोलिटन कोर्ट ने जमानत दे दी है। कोर्ट में राहुल ने कहा कि वह कोई अपराधी नहीं हूं। इससे पहले, राहुल गांधी 12 बजे अहमदाबाद (Ahamdabad) पहुंचे और वहां से सीधे कोर्ट (Court) के लिए रवाना हो गए।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक
राहुल गांधी अहमदाबाद के सर्किट हाउस पहुंचने पर  कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक भी की। बैठक (Meeting) के बाद राहुल गांधी का 5 अलग-अलग जगहों पर स्वागत किया गया। साथ ही राहुल एनएसयूआई (NSUI) यूथ कांग्रेस और महिला मोर्चा के कार्यकर्ताओं से मुलाकात की।

BJP नेता का दावा, क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी जल्द ही पार्टी में होंगे शामिल

5 बजे दिल्ली के लिए रवाना
राहुल गांधी कोर्ट में पेशी के बाद शाम 5 बजे दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे। कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक (एडीसीबी) और उसके चेयरमैन अजय पटेल ने मानहानि की शिकायत करते हुए मामला दर्ज करवाया था।

'दिल्ली वक्फ बोर्ड में चल रहा भाई भतीजा-वाद', अमानतुल्लाह खान पर 100 करोड़ के घोटाले का आरोप

क्या है मामला 
गुजरात कांग्रेस प्रवक्ता मनीष दोषी ने कहा कि गांधी अदालत के समक्ष पेश होंगे। दोषी ने कहा, ‘चूंकि सम्मन पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला को भी जारी किये गए थे, उनके भी पेश होने की उम्मीद है।’

मानहानि का मुकदमा गत वर्ष तब दायर किया गया था जब गांधी और सुरजेवाला ने दावा किया कि अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक आठ नवम्बर, 2016 को नोटबंदी की घोषणा के पांच दिन के अंदर 745.59 करोड़ रुपये के बंद हो चुके नोटों को बदलने के घोटाले में शामिल था।

चुवानी हलफनामे में गलत जानकारी को लेकर दिल्ली HC का हंसहाज हंस को नोटिस

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह एडीसीबी बैंक के निदेशकों में से एक हैं। अदालत ने दोनों नेताओं के खिलाफ प्रथम दृष्टया सबूतों को देखते हुए नौ अप्रैल को उनके खिलाफ सम्मन जारी किये थे। शिकायतकर्ताओं ने कहा कि कांग्रेस नेताओं ने बैंक के खिलाफ ‘झूठे और मानहानिकारक आरोप’ लगाये।

लोजपा सांसद रामचंद्र पासवान को दिल का दौरा, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

अदालत ने गांधी और सुरजेवाला को सम्मन करने से पहले आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 202 के तहत एक जांच करायी थी। गांधी और सुरजेवाला के आरोप मुम्बई के एक आरटीआई कार्यकर्ता द्वारा पूछे गए एक आरटीआई सवाल पर नेशनल बैंक फॉर एग्रिकल्चर एंड रूरल डेवलप्मेंट द्वारा दिये गए जवाब पर आधारित थे। एडीसीबी और पटेल ने इससे इनकार किया है कि बैंक ने इतनी बड़ी राशि के नोट बदले जैसा कि आरोप लगााया गया है। 

भारतीय मीडिया को पालतू बोलकर फंसे पी चिदंबरम, भाजपा ने कसा तंज...

अधिक समय दिए जाने की करी थी अपील
मानहानि के इस मामले में कोर्ट ने अप्रैल में सुनवाई की थी और तब कोर्ट ने राहुल गांधी को 27 मई को पेश होने के आदेश दिए थे, लेकिन राहुल गांधी ने कोर्ट से अपील की थी कि उन्हें अधिक समय दिया जाए। उनकी इस मांग को कोर्ट ने स्वीकार कर लिया था और राहुल गांधी को 12 जुलाई को कोर्ट के सामने पेश होने का आदेश दिए गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.