Saturday, Jun 10, 2023
-->
aiims director dr randeep guleria corona vaccine kmbsnt

Good News: नए साल की शुरुआत में देशवासियों को मिल सकती है कोरोना वैक्सीन- एम्स निदेशक

  • Updated on 12/3/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश में कोरोना संक्रमण (Corona infection) के मामलों में एक ओर जहां धीरे-धीरे कमी आ रही है तो वहीं इसकी वैक्सीन (Corona vaccine) का काम भी तेजी से हो रहा है। दिल्ली एम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया (Dr Randeep Guleria) ने कहा है कि बहुत जल्द देश में लोगों को कोरोना वैक्सीन मिलने की संभावना है। 

डॉक्टर गुलेरियान ने कहा है कि भारत में, अब हमारे पास वो वैक्सीन हैं जो अपने अंतिम परीक्षण चरण में हैं। उम्मीद है कि इस महीने के अंत तक या अगले महीने की शुरुआत में हमें भारतीय नियामक अधिकारियों से वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग की अनुमति मिल जानी चाहिए, ताकि जनता को वैक्सीन देना शुरू किया जा सके।

'वैक्सीन की सुरक्षा प्रमाणित करने के लिए पर्याप्त डाटा उपलब्ध'
डॉक्टर गुलेरिया ने कहा है कि वैक्सीन की सुरक्षा को प्रमाणित करने के लिए हमारे पास पर्याप्त डेटा उपलब्ध है। टीके की सुरक्षा और प्रभावकारिता से बिल्कुल भी समझौता नहीं किया गया है। 70,000-80,000 स्वयंसेवकों को वैक्सीन दी गई, जिनमें वैक्सीन का कोई बहुत गंभीर प्रतिकूल प्रभाव नहीं दिखा। डेटा से पता चलता है कि अल्पावधि में टीका सुरक्षित है।

केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में आरटी-पीसीआर जांच का शुल्क घटाया 

चेन्नई वैक्सीन परीक्षण को डॉ गुलेरिया ने बताया अलग केस
वहीं चेन्नई वैक्सीन परीक्षण से उत्पन्न हो रहे सुरक्षा के सवालों के बारे में डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि वो मामला वैक्सीन से संबंधित नहीं था।  जब हम बड़ी संख्या में लोगों को वैक्सीन लगाते हैं, तो उनमें से कुछ को कोई न कोई बीमारी हो सकती है, जो वैक्सीन से संबंधित नहीं हो सकती। आशा की जा रही है कि नए साल के आगाज के साथ ही कोरोना से निजात दिलाने वाली वैक्सीन लोगों के लिए उपलब्ध होगी। 

वैक्सीन को लेकर सक्रिय हुए PM, टीका बना रही कंपनियों की टीम के साथ की बैठक

देश में संक्रमित होने वालों से अधिक ठीक होने वालों की संख्या
वहीं दूसरी ओर देश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार भी कुछ धीमी पड़ रही है। भारत में पिछले 24 घंटों कोरोना के नए मामलों की तुलना में रिकवरी के अधिक मामले सामने आए हैं। देश में 24 घंटे में कोरोना के 35,551 नए केस सामने आए, जबकि 40,726 लोग ठीक होकर घर लौट गए। वहीं 526 लोगों की मौत हुई। 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.