Tuesday, Sep 28, 2021
-->
aiims is preparing for the third wave of corona keeping in mind the children kmbsnt

तीसरी लहर से निपटने के लिए AIIMS की तैयारियां तेज, बच्चों के लिए खास इंतजाम

  • Updated on 7/20/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल और शोध संस्थान एम्स में कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की तैयारियां तेज कर दी गई हैं। खास बात यह है कि इस बार की तैयारियां बच्चों को ध्यान में रखते हुए की जा रही हैं। कोरोना मरीजों के उपचार के लिए एम्स ट्रॉमा सेंटर में स्थापित केंद्र में उपचार की सुविधाएं बढ़ाई जाएगी।

एम्स ट्रॉमा सेंटर में कोरोना के मरीजों के उपचार के लिए ईसीएमओ (एक्स्ट्राकारपोरेट मेंब्रेन ऑक्सिजनेशन) मशीन भी लगाई जाने की योजना है। एम्स ट्रामा सेंटर दिल्ली का ऐसा पहला सरकारी अस्पताल होगा जहां कोरोना के इलाज के लिए यह सुविधा उपलब्ध होगी।

हंगामे की भेंट चढ़ा संसद का पहला दिन, दोनों सदनों में विरोध 

दो अतिरिक्त आईसीयू वार्ड होंगे स्थापित
एम्स ट्रॉमा सेंटर में दो अतिरिक्त आईसीयू वार्ड स्थापित किए जा रहे हैं। जिससे आईसीयू बिस्तरों की संख्या में बढ़ोतरी होगी। वहीं 40 अत्याधुनिक वेटर भी इंस्टॉल किए जाएंगे। एम्स में इन तैयारियों पर नजर रखने के लिए बकायदा एक कमेटी गठित की गई है। इसमें पीडियाट्रिक विभाग के अध्यक्ष को शामिल किया गया है।

मेडिकल कोर्स एडमिशन: हाई कोर्ट ने ओबीसी आरक्षण पर केंद्र का रुख पूछा 

कोरोना मरीजों के लिए बढ़ेगी बेड्स की संख्या 
ट्रामा सेंटर के प्रमुख डॉ राजेश मल्होत्रा के मुताबिक नर्सों और आईसीयू टेक्नीशियन को भी बच्चों की देखभाल के लिहाज से प्रशिक्षण देने का सिलसिला जारी है। वहीं ऑक्सीजन आपूर्ति की क्षमता भी बढ़ाकर दोगुनी कर दी गई है। सेंटर में अभी 265 बेड हैं। इसमें 71  आईसीयू बेड शामिल हैं। दो नए आईसीयू वॉर्ड स्थापित होने से ट्रामा सेंटर में आईसीयू बेड की अतिरिक्त संख्या 28 हो जाएगी। जिसके बाद आईसीयू बेड बढ़कर 99 हो जाएंगे। जबकि कुल बेड की संख्या बढ़कर 293 हो जाएगी। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.