Sunday, Jun 13, 2021
-->
aiims-vaccination-of-children-may-take-6-months-kmbsnt

AIIMS: बच्चों के वैक्सीनेशन में लग सकता है 6 महीने का समय

  • Updated on 6/10/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल और शोध संस्थान में बच्चों पर कोरोना टीका परीक्षण की प्रक्रिया जारी है, लेकिन टीके की उपलब्धता इस साल के अंत या नए साल की शुरुआत में ही होने के आसार नजर आ रहे हैं। परीक्षण के मुख्य जांचकर्ता प्रोफेसर संजय राय के मुताबिक ट्रायल 6 महीने का होगा।

हालांकि पहले 2 महीने में ही रिपोर्ट आ सकती है कि बच्चों में एंटीबॉडी का निर्माण कितना प्रभावी है। ट्रायल में बच्चों को पहली डोज के 28 दिन बाद दूसरी डोज दी जाएगी।

कोरोना से जंग में राज्यों के पास अब भी 1.33 करोड़ टीका मौजूद, केंद्र सरकार ने दी जानकारी

पहले बच्चों में एंटीबॉडी की जांच
इससे पहले बच्चों में एंटीबॉडी की जांच की जाएगी। इसके बाद 56 दिन, 118 और 208 दिन पूरे होने पर भी एंटीबॉडी विकसित होने से संबंधित जांच की जाएगी। बताया गया है कि बच्चों की कैंसर, हृदय रोग, अस्थमा और कोरोना सहित अन्य कई तरह की बीमारियों की जांच की गई है।

कोरोना के तीसरी लहर से निपटने के लिए सक्रिय हुए नितिन गडकरी, कही ये बात

तीन वर्गों में बांटे गए बच्चे 
ट्रायल में शामिल बच्चों को तीन आयु वर्गो 2 से 6, 6 से 12 और 12 से 18 साल में बांटा गया है। देश में 3 आयु वर्ग के 175-175 बच्चों को ट्रायल में शामिल किया जाएगा। यहां बता दें कि एम्स में सोमवार को टीके के ट्रायल में शामिल होने के लिए 30 बच्चे पहुंचे थे। मंगलवार से बच्चों को टीके की पहली डोज देने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। जिसमें जांच में स्वस्थ पाए जाने वाले बच्चों को ही टीका लगाया जाएगा। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.