Sunday, Feb 05, 2023
-->
aimim asaduddin owaisi in uttar pradesh assembly elections after aam aadmi party rkdsnt

आम आदमी पार्टी के बाद अब ओवैसी भी उप्र विधानसभा चुनाव के मैदान में

  • Updated on 12/16/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बिहार विधानसभा चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन से उत्साहित एआईएमआईएम के अध्यक्ष व लोकसभा सदस्य असदुद्दीन ओवैसी ने बुधवार को सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि बिहार की सफलता के बाद पार्टी को हौंसला मिला है और हम उस कामयाबी के सिलसिले को जारी रखेंगे। 

दिल्ली बार्डरों से किसानों को हटाने संबंधी याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से मांगा जवाब

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए ओवैसी ने कहा कि अभी तक उनका सामना ’मीर जाफर‘’और‘मीर सादिक’जैसे मुसलमानों से हुआ है, उनका सामना सच्चे मुसलमान से नहीं हुआ है। उनसे पूछा गया था कि ममता बनर्जी आरोप लगाती हैं कि वह पैसे लेकर मुस्लिम वोटों का बंटवारा करते है। इस पर ओवैसी ने जवाब दिया‘‘जब अटल बिहारी वाजपेयी जी प्रधानमंत्री थे तो ममता एनडीए का हिस्सा रही। 

किसान आंदोलन के बीच नहीं होगा संसद का शीतकालीन सत्र, विपक्ष ने उठाए सवाल

गुजरात में इतना बड़ा फसाद हुआ। अब ममता बनर्जी यह कह रही हैं तो अब तक उनका सामना मीर जाफर औैर मीर सादिक जैसे लोगो से पड़ा है। उनका एक सच्चे मुसलमान से सामना नहीं हुआ है, वह हो जायेगा। अगर वह कह रही है कि दौलत मिली है तो कोई इतना बड़ा आदमी पैदा नही हुआ जो असदुदीन ओवैसी को खरीद सकें ।‘‘ 

आम आदमी पार्टी के ऐलान से योगी सरकार में मची खलबली, केजरीवाल को लिया आड़े हाथ

राजभर से मुलाकात के बाद बुधवार को आल इंडिया मजिलस-ए इत्तेहादुल मुस्लीमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख ओवैसी ने पत्रकारों से कहा‘‘बिहार में जो हमें कामयाबी मिली उसमें ओम प्रकाश राजभर जी का भी सहयोग है। हम ग्रैंड डेमोक्रेटिक सेक्युलर एलायंस का हिस्सा थे। हमको तो बिहार की सफलता के बाद हौसला मिला है और उस कामयाबी के सिलसिले को जारी रखेंगे।’’ 

प्रशांत भूषण ने अवमानना मामले में पुनर्विचार याचिका से सुप्रीम कोर्ट से की गुजारिश

बिहार में हाल में ही विधानसभा चुनाव में एआईएमआईएम को पांच सीटे मिली थी। ओवैसी से मुलाकात के बाद सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने कहा‘’हमने एक साल पहले भागीदारी संकल्प मोर्चा का गठन किया था और हम 2022 का विधानसभा चुनाव एक साथ मिलकर लड़ेंगे। कल तक लोग कहते थे कि ओपी राजभर अकेला है और वह क्या कर लेगा?अब जब ओवैसी जी आये है तो लोगों को दर्द क्यों हो रहा है।‘’ 

 किसान आंदोलन के बीच राहुल गांधी ने सरदार पटेल को किया याद, निशाने पर मोदी सरकार

राजभर से पूछा गया कि क्या भाजपा का मुकाबला करने के लिये वह ओवैसी के साथ आ रहे हैं तो इस पर भाजपा के पूर्व सहयोगी राजभर ने कहा, ‘‘हमने मोर्चा चुनाव जीतने के लिये बनाया है और हम शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के मुददे पर चुनाव लड़ेंगे।‘’ 

नीतीश कुमार ने किया साफ- मंत्रिमंडल विस्तार के लिए भाजपा की ओर से नहीं मिला कोई प्रस्ताव

राजभर से पूछा गया कि ऐसा कहा जाता है कि ओवैसी की पार्टी वोट कटवा है, इस पर उन्होंने जवाब दिया ’हम चाहते हैं कि ओवैसी जी अपने समुदाय का वोट काटें, राजभर अपने समुदाय का वोट काटें, अपना दल की कृष्णा पटेल अपने समुदाय का वोट काटें । यह सारे वोट एकजुट हो जाये और हम चुनाव जीत जायेंगे ।‘’ 

इससे पहले ओवैसी ने कहा कि वह प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव से भी मुलाकात करेंगे। मंगलवार को ही आम आदमी पार्टी ने भी उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव लडऩे की घोषणा की है। ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि ओवैसी छोटी पार्टियों के साथ मिलकर राज्य में चुनाव लड़ सकते हैं।

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.